June 2020

अंबरनाथ में एक ही दिन में कोरोना मुक्त हुए 242 रोगी
उल्हासनगर में फिलहाल लॉकडाऊन नहीं मनपा आयुक्त

उल्हासनगर। उल्हासनगर महानगरपालिका क्षेत्र में कोरोना का कोहराम जारी है। मंगलवार को अब तक का सबसे ज्यादा 148 नए मरीज मिलने से शहर में कोरोना के प्रति दहशत बढ़ गई है। इसी के साथ शहर में कोरोना ग्रस्त मरीजों की कुल संख्या अब 1914 हो गई है। जिसमें राहत की खबर यह है कि मंगलवार को 60 मरीज कोरोना मुक्त होकर डिस्चार्ज हुए हैं जिससे कोरोना मुक्त मरीजों की कुल संख्या अब 1043 हो गई है। 824 एक्टिव मरीजों की ईलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है। मंगलवार को चार मरीजों की मौत कोरोना से हुई है जिससे मरने वालों की संख्या अब 47 हो गई है। उल्हासनगर शहर में बढ़ते कोरोना के मामलों को लेकर मंगलवार को महानगरपालिका में नए आयुक्त डॉ. राजा दयानिधी ने सर्वपक्षीय बैठक का आयोजन किया था। जिसमें टीओके द्वारा 1 से 7 जुलाई तक की गई लॉकडाऊन की मांग पर मनपा आयुक्त डॉ. दयानिधी ने कहा कि शहर में फिलहाल लॉकडाऊन नहीं होगा क्योंकि लॉकडाऊन हेतु कई तैयारियां की जाती है जिसके लिए पुलिस का सहयोग आवश्यक है। शहर में लॉकडाऊन की अगर आवश्यकता होगी तो उस पर उचित समय पर तैयारी के साथ निर्णय लिया जाएगा।
अंबरनाथ। अंबरनाथ में दो दिनों से एक पॉजिटीव खबर मिल रही है। सोमवार को 230 रोगी तो आज मंगलवार को 242 कोरोना रोगी ठीक होकर घर गए हैं। अब तक कुल 1245 रोगी ठीक हुए है। मंगलवार को कोरोना के 54 नए रोगी मिले हैं। कुल संख्या अब 1823 हो गई हैं। जितनी बड़ी संख्या में कोरोना रोगी मिल रहे हैं उससे भी ज्यादा बड़ी संख्या में रोजाना ठीक होकर मरीज डिस्चार्ज किए जा रहे हैं। लोगों की समझ में ये बातें नहीं आ रही है कि मरीजों को कितने दिन अस्पताल में रखकर छोड़ा जा रहा है। आज 533 एक्टिव रोगी बताए गए है जिनका ईलाज अस्पतालों में चल रहा है। अब तक 45 की मौत हुई है। अब तक 3547 लोगों का स्वेब कलेक्शन करके चेक किया गया है। अंबरनाथ नपा और मेट्रोपोलीस लेबोरेट्री के बीच एक करार हुआ है जिसके अनुसार जुलाई और अगस्त माह में 5 हजार लोगों के कोरोना टेस्ट मुफ्त में किए जाएंगे। जिससे एक करोड़ 40 लाख रुपए की बचत होगी।
बदलापुर। बदलापुर में भी कोरोना रफ्तार पकड़ रहा है। मंगलवार को यहां पर 32 कोरोना ग्रस्त मिले हैं। यहां पर कुल संख्या 774 हो गई है। 394 बीमार ठीक होकर घर गए हैं। एक्टिव मरीज 365 हैं। यहां पर अब तक 15 की मृत्यु हुई है। आज तक 1547 लोगों का स्वेब कलेक्शन करके चेक किया गया है। बदलापुर में 900 लोगों को होम क्वारनटाईन किया गया है। 106 नपा के क्वारनटाईन सेंटर में है। आज 45 स्वेब सेम्पल लिए गए हैं। आज बदलापुर में अंबरनाथ का एक 45 वर्षीय शिक्षक और एक डोंबिवली पुलिस कर्मी बाधित पाया गया है।
कल्याण। कल्याण डोम्बिवली शहर में कोरोना संक्रमितों के मामले में आज कुल 462 कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि की गई जिसके साथ ही कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 6575 तक जा पहुची है इनमें 4066 मरीजो का उपचार चल रहा है तो वहीं 2389 मरीज डिस्चार्ज हो चुके है वही आज 7 लोगों की मौत हो गयी इस आंकड़े के बाद मरने वालों की संख्या बढ़कर 120 हो गयी है। इन आकड़ों पर नजर डाला जाए तो अब इलाज करा रहे मरीजो की संख्या बढ़ती जा रही है जबकि डिस्चार्ज होनेवालों की संख्या कम होती जा रही है वही मरनेवालों की संख्या भी थमने का नाम नही ले रही है।

उल्हासनगर महानगरपालिका क्षेत्र में कोरोना का कोहराम जारी है। मंगलवार को 148 नए मरीज मिलने से शहर में कोरोना के प्रति दहशत बढ़ गई है। इसी के साथ शहर में कोरोना ग्रस्त मरीजों की कुल संख्या अब 1914 हो गई है। जिसमें राहत की खबर यह है कि मंगलवार को 60 मरीज कोरोना मुक्त होकर डिस्चार्ज हुए हैं जिससे कोरोना मुक्त मरीजों की कुल संख्या अब 1043 हो गई है। 824 एक्टिव मरीजों की ईलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है। मंगलवार को चार मरीजों की मौत कोरोना से हुई है जिससे मरने वालों की संख्या अब 47 हो गई है।

उल्हासनगर। उल्हासनगर शहर में बढ़ते कोरोना के मामलों को लेकर मंगलवार को महानगरपालिका में नए आयुक्त डॉ. राजा दयानिधी ने सर्वपक्षीय बैठक का आयोजन किया था। जिसमें टीओके द्वारा 1 से 7 जुलाई तक की गई लॉकडाऊन की मांग पर मनपा आयुक्त डॉ. दयानिधी ने कहा कि शहर में फिलहाल लॉकडाऊन नहीं होगा क्योंकि लॉकडाऊन हेतु कई तैयारियां की जाती है जिसके लिए पुलिस का सहयोग आवश्यक है। शहर में लॉकडाऊन की अगर आवश्यकता होगी तो उस पर उचित समय पर तैयारी के साथ निर्णय लिया जाएगा। यह जानकारी हमें भाजपा जिलाध्यक्ष व गट नेता जमनू पुरस्वानी ने दी जो उस बैठक में मौजूद थे।
उल्हासनगर मनपा में मंगलवार को मनपा आयुक्त डॉ. राजा दयानिधी ने सर्वपक्षीय बैठक का आयोजन किया था जिसमें भाजपा से जमनू पुरस्वानी, किशोर वनवारी, शिवसेना से धनंजय बोडारे, अरुण आशान, धनंजय बोडारे, टीओके से कमलेश निकम, शिवाजी रगडे व साई पक्ष से टोनी सीरवानी, कांग्रेस से रोहित सालवे उपस्थित थे। इस बैठक में शहर में कोरोना संबंधित मुद्दों पर चर्चा की गई जिसमें सर्वपक्षीय नगरसेवकों ने अपने विचार रखे और शहर की समस्या से अवगत कराया।  शहर में 1 से 7 जुलाई तक सप्ताह भर लॉकडाऊन की मांग टीओके तथा शिवसेना द्वारा की गई। वहीं भाजपा द्वारा यह कहा गया की गई कि अगर लॉकडाऊन शहर में करना ही है तो पूर्ण रूप से और सख्ती से पुलिस व प्रशासन की निगरानी में लॉकडाऊन करें। केवल शटर नीचे करके लॉकडाऊन करना व्यर्थ है। इस लॉकडाऊन में मजदूरों को खान-पान की व्यवस्था भी मनपा प्रशासन को करनी पड़ती है उसकी भी व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर अनलॉक का ही पालन व्यापारी व शहरवासी अच्छे से नियमानुसार करें तो लॉकडाऊन की आवश्यकता नहीं है। इस तरह की बातें भाजपा गट नेता जमनू पुरस्वानी ने की। लॉकडाऊन के सुझाव पर मनपा आयुक्त ने कहा कि प्रशासन लॉकडाऊन के लिए फिलहाल तैयार नहीं है इसकी अग्रिम सूचना तथा पुलिस का सहयोग आवश्यक है और पूरी तैयारी के बाद ही हम लॉकडाऊन की घोषणा करेंगे और अगर जरूरत पड़ी तो कुछ ही दिन में इसका निर्णय भी लिया जाएगा।
मनपा आयुक्त ने कहा कि कोरोना की रोकथाम हेतु प्रशासन ने रुपरेखा तैयार की है जिसमें सप्ताह भर में 200 बेड का अस्पताल तैयार किया जाएगा, चार निजी अस्पताल कोविड को समर्पित होंगे तथा गरीब अथवा अमीर मरीजों को महात्मा ज्योर्तिबा फुले योजना के तहत मुफ्त ईलाज की सुविधा देने का प्रयास भी किया जा रहा है। कोरोना की रोकथाम हेतु हर संभव कोशिश की जाएगी। ताकि कोरोना मामले में गिरावट आए।
आयुक्त की उपरोक्त बातें हमें भाजपा जिलाध्यक्ष जमनू पुरस्वानी ने बताई और कहा कि नए आयुक्त काफी काबिल है और उनके चार्ज लेते ही लॉकडाऊन का प्रेशर सत्तापक्ष दे रही है। आयुक्त स्वयं डॉक्टर भी है इसलिए उन्हें फ्री हैंड काम करने मौका देना चाहिए। उन्होंने हमसे वादा किया है कि वो कोरोना की रोकथाम हेतु हर संभव प्रयास करेंगे। यह बैठक मंगलवार की दोपहर 12.30 से 3 बजे तक चली। बैठक में उपस्थित नगरसेवकों ने शहर में ऑक्सीजन, वेंटीलेटर, बेडों व चेकअप सेंटर की कमी पर भी चर्चा की। जिस पर उन्होंने कहा कि जल्द से जल्द इसका निवारण का प्रयास किया जाएगा।


नई दिल्ली।पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में भारतीय सेनाओं के साथ हिंसक झड़प के बाद चीन को सैन्य मोर्चे पर करारा जवाब दिया गया। वहीं आर्थिक और अन्य मोर्चे पर भी उसके खिलाफ मोदी सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। भारत सरकार ने 59 चाइनीज मोबाइल एप को प्रतिबंधित कर दिया है। इसमें टिकटॉक, यूसी ब्राउसर, शेयर इट और अन्य चाइनीज एप शामिल हैं।
भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने सरकार से कहा था कि या तो चीन से जुड़े 52 मोबाइल एप्लिकेशन को ब्लॉक कर दिया जाए या लोगों को इनका इस्तेमाल ना करने की सलाह दी जाए, क्योंकि इनका इस्तेमाल करना सुरक्षित नहीं है।
ये ऐप बड़े पैमाने पर डेटा को भारत से बाहर भेज रहे हैं। इस मामले से जुड़े लोगों ने पहले ही जानकारी दी थी। सुरक्षा एजेंसियों ने सरकार को जो लिस्ट भेजी थी उसमें वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप जूम, टिकटॉक, यूसी ब्राउजर, एक्सएंडर, शेयर इट और क्लीन मास्टर जैसे एप शामिल थीं। 
इस साल अप्रैल महीने में गृह मंत्रालय ने जूम के इस्तेमाल को लेकर एक अडवाइजरी जारी की थी। मंत्रालय ने यह अडवाइजरी नेशनल साइबर सिक्यॉरिटी एजेंसी कंप्यूटर इमर्जेंसी रेस्पॉन्स टीम इंडिया (CERT-in) के प्रस्ताव पर जारी की थी। भारत पहला देश नहीं है जिसने सरकार में जूम एप के इस्तेमाल पर रोक लगाई।
इससे पहले ताइवान ने भी सरकारी एजेंसियों को जूम एप के इस्तेमाल से रोक दिया। जर्मनी और अमेरिका भी ऐसा ही कर चुके हैं। कंपनी ने गृह मंत्रालय की एडवाइजरी पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि वह यूजर्स की सिक्यॉरिटी को लेकर गंभीर है।
सिक्यॉरिटी से समझौता करने वाले मोबाइल एप्स पर कार्रवाई की मांग उठती रही है। वीडियो शेयरिंग एप के स्वामित्व वाली चाइनीज इंटरनेट कंपनी बाइट डांस जैसी कंपनियां इससे इनकार करती रही थी। लेकिन अधिकारियों का कहना था कि चाइनीज डिवेलपर्स की ओर से तैयार या चाइनीज लिंक्स वाले एप भले ही वह एंड्रॉयड के लिए हों या आईओस के लिए, इनका इस्तेमाल स्पाइवेयर या अन्य नुकसान पहुंचाने वाले वेयर के रूप में हो सकता है।
ऐसी खबरें थी कि सिक्यॉरिटी एजेंसियों ने सुरक्षाकर्मियों को इन चीनी एप्स का इस्तेमाल ना करने की सलाह दी थी क्योंकि इससे उनकी डेटा सिक्यॉरिटी को खतरा है।


हीरो बोधा-युसूफ शेख
उल्हासनगर। उल्हासनगर शहर में वर्चस्व व श्रेय की राजनीति के चलते इस कोरोना महामारी के दौरान व्यापारी काफी गुमराह हो रहे हैं। कोरोना मामले बढ़ते देख रविवार को टीओके प्रमुख ओमी कालानी द्वारा अचानक 1 से 7 जुलाई तक सेल्फ लॉकडाऊन की घोषणा यूटीए मार्फत की जिससे लोग असमझ में आ गए कि हाल ही में खुले लॉकडाऊन के बाद दोबारा लॉकडाऊन कैसे करें? वहीं रविवार को ही तीन माह बाद सैलून की दुकानें खुली हैं और व्यापारियों को भी एक दिन छोड़कर अपनी दुकानें खोलने मिल रही है ऐसे में दोबारा लॉकडाऊन की घोषणा से व्यापारी असमझ में हैं और एक बार फिर लॉकडाऊन के पक्ष में नहीं है। उनका कहना है कि कोरोना दुकानदारों के कारण नहीं हो रहा है यह यूटीए भी कह चुका है। मनपा प्रशासन की लापरवाही से ही कोरोना शहर में बढ़ रहा है क्योंकि कोरोना संक्रमित क्षेत्र कंटेनमेंट झोन को मनपा अब सैनीटाईज तक नहीं कर रही है और कोरोना मरीजों व संदेहास्पद मरीजों के प्रति मनपा पूरी तरह लापरवाह रही है। मनपा के भ्रष्ट कारोबार की पोल खुल चुकी है नेताओं को उसे सुधारने की आवश्यकता है ना की व्यापारियों को बलि का बकरा बनाया जाए। एम्बूलैंस की कमी, ऑक्सीजन की कमी, बेड की कमी से जानें जा रही है। आपात मरीजों के लिए कोई सुविधा नहीं सभी सेंटर बंद। आरोग्य अधिकारियों के फोन बंद क्या इस तरह शहर में कोरोना मरीज कम होंगे। वहीं भाजपा जिलाध्यक्ष जमनू पुरस्वानी का कहना है कि जब तक सरकारी आदेश नहीं आता तब तक अनलॉक के नियमों का सख्ती से पालन व्यापारी करें। नए आए मनपा आयुक्त लॉकडाऊन संबंधी उचित आदेश देंगे।
उल्हासनगर महानगरपालिका क्षेत्र में सोमवार को कोरोना बम फटा है। सोमवार को 137 नए पॉजिटीव मरीज मिलने से शहर में कोरोना ग्रस्त मरीजों की संख्या 1766 हो गई है। जिसमें से एक कोरोना ग्रस्त मरीज की मृत्यु हुई है। सोमवार को 53 मरीज कोरोना मुक्त होकर अपने घर लौटे हैं जिससे शहर में अब तक 50 प्रतिशत से भी अधिक मरीज 986 कोरोना मुक्त हुए हैं। वहीं एक्टिव मरीजों की संख्या अब 737 है। इन सभी मरीजों का ईलाज शहर के विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है। शहर के बाहर 46 मरीज हैं जबकि 90 मरीज होम आयसोलेशन में अपना ईलाज करवा रहे हैं। उल्हासनगर-3 सम्राट अशोक नगर से एक बार कोरोना ग्रस्त मरीज मिलने शुरू हो गए हैं। सोमवार को यहां सबसे अधिक 10 मरीज मिले हैं। 
सोमवार को उल्हासनगर-1 से 5 तक जिन क्षेत्रों से कोरोना के मरीज मिले हैं उनमें:- उल्हासनगर-1 के लक्ष्मी नारायण मंदिर से 1, सेंचुरी क्लब रोड से 4, सी ब्लॉक के पास से 1, शहाड फाटक से 1, कमला नेहरू नगर धोबीघाट से 1, सम्राट हर्षवर्धन नगर से 6, साधुबेला स्कूल के पास  से 4, राजीव गांधी नगर से 1, हनुमान मंदिर के पास से 1, प्रेमीबाई धर्मशाला के पास से 1, मधुबन होटल के पास से 1, बेवस चौक के पास से 1, व अन्य क्षेत्र से 1, उल्हासनगर-2 से 1, बेफ्रिकी चौक से 1, झुलेलाल मंदिर के पास से 1, ओटी सेक्शन से 2, सोनार गली से 1, गणेश मंदिर के पास से 1, खेमानी चौक से 3, सेक्शन 19 से 1, कोनार्क बैंक के पास से 1, सोनारा हॉल के पास से 3, दुर्गामाता नगर से 4, रमाबाई नगर से 1, भैयासाहेब आंबेडकर नगर से 5, उल्हासनगर-3 के चोपड़ा कोर्ट से 1, हॉस्पिटल एरिया से 2, ओटी सेक्शन 2, सम्राट अशोक नगर से 10, सुभाष नगर से 7, सेक्शन 22 से 1, बाबासाहेब आंबेडकर नगर से 1, शांतिनगर से 2, गौतम नगर सेंचुरी कॉलोनी के पास से 2, 17 सेक्शन से 2, जसलोक स्कूल के पास से 1, पंजाबी कॉलोनी से 1, टेलीफोन एक्सचेंज से 2 व 3 अन्य क्षेत्र से मिले हैं उल्हासनगर-4 के संतोष नगर से 1, शिवनेरी हॉस्पिटल के पास से 1, सुभाष टेकड़ी से 1, पांच दुकान परिसर से 1, सेक्शन 26 से 3, सेक्शन 25 से 2, बंगलो एरिया से 1, मराठा सेक्शन से 1, गजानन नगर से 1, महात्मा फुले कॉलोनी से 1, दीपक नगर से 1, सरकारी दवाखाने के पास से 1, महात्मा फुले नगर से 4, साईनाथ कॉलोनी से 1, कुर्ला कैम्प रोड से 1, गुरुनानक स्कूल के पास से 1, आशेला गांव रोड से 3 व 1 अन्य क्षेत्र से उल्हासनगर-5 के विट्ठल नगर से 1, भाटिया चौक के पास से 3, प्रभात गार्डन से 2, बस स्टॉप से 1, सतरामदास हॉस्पीटल के पास से 1, ओटी सेक्शन से 1, प्रेमनगर टेकड़ी से 1, गांधी रोड से 5, गोकुल नगर से 4 व 1 अन्य क्षेत्र से मरीज मिला है।
अंबरनाथ में 6 जुलाई तक लॉकडाऊन, व्यापारी नाराज
अंबरनाथ। अंबरनाथ में सोमवार को 88 नए कोरोना बाधित मिले हैं यहां पर कुल संख्या 1769 हो गई है। 23 से 29 जून तक लॉकडाऊन में दुकानें बंद रहने के बावजूद इन सात दिनों में 500 कोरोना के मरीज मिले हैं। प्रशासन का नियोजन सही नहीं होने के कारण लॉकडाऊन असफल रहा है। फिर भी 6 जुलाई तक दुकानें बंद रखने का आदेश दिए जाने से व्यापारियों में भारी रोष देखा जा रहा है। मृतकों की संख्या भी बढ़ते जा रही है। सात दिनों में 8 की मौत हुई है। मृतकों की कुल संख्या 42 हो घई है। एक्टिव मरीज 724 है। जबकि 1003 लोग ठीक होकर घर गए हैं। शहर पश्चिम में कोरोना के मरीज ज्यादा है। पूर्व में भी हैं लेकिन कम है। नपा प्रशासन के वर्कर घर-घर जाकर ऑक्सीजन और फीवर चेक कर रहे हैं। संशयित को कोरोना टेस्ट करने के लिए भेजा जा रहा है। एक अच्छी खबर ये है कि शहर में ठीक होने वालों का प्रतिशत 55 हो गया है। 24 घंटे में रिकार्ड तोड़ मरीज ठीक हुए हैं एक ही दिन में 230 रोगी अच्छे होकर घर गए हैं।
बदलापुर। कुलगांव-बदलापुर नपा क्षेत्र में सोमवार को 21 कोरोना बाधित मिले हैं। यहां पर 21 की आज स्वेब रिपोर्ट प्राप्त हुई है पूरे 21 ही बाधित मिले हैं। कोरोना ग्रस्त मरीजों की कुल संख्या 742 हो गई है। आज तक 1489 का स्वेब कलेक्शन करके टेस्ट किया गया है। 28 स्वेब रिपोर्ट की प्रतिक्षा है। 900 को घरों में क्वारनटाईन किया गया है। 130 नपा के क्वारनटाईन सेंटर मे ंहै। एक्टिव रोगी 369 है। 358 ठीक होकर घर गए हैं। आज 28 बाधित में से दो पुलिस कर्मी है जो मुंबई पुलिस में कार्यरत है। 
कल्याण। कल्याण डोम्बिवली शहर में कोरोना संक्रमितों के मामलों में फिर तेजी हुई है सोमवार को कुल 435 कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि की गई जिसके साथ ही कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 6113 तक जा पहुची है इनमें 3706 मरीजों का उपचार चल रहा है तो वही 2294 मरीज डिस्चार्ज हो चुके है वहीं आज 6 लोगों की मौत हो गयी इस आंकड़े के बाद मरने वालों की संख्या बढ़कर 113 हो गयी है।

यूटीए द्वारा उल्हासनगर में 1 से 7 जुलाई तक सेल्फ लॉकडाऊन की घोषणा
उल्हासनगर शहर में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए टीओके प्रमुख ओमी कालानी के मार्गदर्शन में उल्हासनगर ट्रेड एसोसिएशन द्वारा एक विशेष बैठक कर शहर में 1 से 7 जुलाई तक सेल्फ लॉकडाऊन की घोषणा की है। इसमें दूध व मेडिकल को छोड़कर सभी व्यवसाय जिसमें किराणा व भाजी को भी बंद रखने की घोषणा की गई है। बंद के विषय में मनपा आयुक्त व डीसीपी से मिलकर इसकी जानकारी दी जाएगी ताकि इसे पूरी तरह सफल बनाया जा सके। यह जानकारी हमें यूटीए अध्यक्ष सुमीत चक्रवर्ती व कार्याध्यक्ष दीपक छतलानी ने दी है।
हीरो बोधा-युसूफ शेख
उल्हासनगर। उल्हासनगर महानगरपालिका क्षेत्र में कोरोना का कोहराम जारी है। रविवार को 101 नए पॉजिटीव मरीज मिलने से शहर में कोरोना ग्रस्त मरीजों की संख्या 1629 हो गई है। जिसमें दो कोरोना मरीजों की मृत्यु हुई है। रविवार को 59 मरीज कोरोना मुक्त होकर अपने घर लौटे हैं जिससे शहर में अब तक 50 प्रतिशत से भी अधिक मरीज 933 कोरोना मुक्त हुए हैं। वहीं एक्टिव मरीजों की संख्या अब 654 है। इन सभी का ईलाज शहर के विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है। शहर के बाहर 46 मरीज हैं जबकि 75 मरीज होम आयसोलेशन में अपना ईलाज करवा रहे हैं। नए आयुक्त डॉ. राजा दयानिधी ने अपना चार्ज लेते ही शहर में कोरोना की स्थिति का जायजा लिया और आरोग्य अधिकारियों के साथ कोविड सेंटर व कोविड अस्पतालों का दौरा किया। लेकिन अब तक उनके द्वारा कोई भी सख्त कदम नहीं उठाया गया है जिससे शहर में यह पता चल सके कि नए आयुक्त आए हैं। रविवार को उल्हासनगर-1 से 5 तक जिन क्षेत्रों से कोरोना के मरीज मिले हैं उनमें:- उल्हासनगर-1 गोल मैदान परिसर से 3, एमआयडीसी रोड से 1, तेजुमल चक्की परिसर से 1, शहाड फाटक परिसर से 3, दूनिचंद कॉलेज परिसर से 1, साधुबेला स्कूल परिसर से 1, टेलीफोन एक्सचेंज परिसर से 1, मो. रफी मार्ग से 1 व 1 अन्य क्षेत्र से, उल्हासनगर-2 बेवस चौक परिसर से 1, ओटी सेक्शन से 2, खेमानी चौक से 2, झुलेलाल स्कूल परिसर से 4, धोबीघाट परिसर से 2, नेहरू नगर से 1, उल्हासनगर-3 चोपड़ा कोर्ट परिसर से 1, खन्ना कंपाऊड से 1, ओटी सेक्शन से 6, ब्राह्मणपाड़ा से 1, आनंद नगर से 1, सम्राट अशोक नगर से 1, सुभाष नगर से 1, जवाहर टॉकीज परिसर से 1, रिजेंसी होटल के पास से 3, शिवाजी चौक परिसर से 2, शांतिनगर से 1 (मृत्यु), सपना गार्डन परिसर से 2, सेक्शन 17 से 1, अमन टॉकीज के पास से 5, पंजाबी कॉलोनी से 1, फलावर लाईन से 1 व 1 अन्य क्षेत्र से मरीज मिला है जबकि एक अन्य व्यक्ति की मौत भी हुई है। उल्हासनगर-4 लाल चक्की से 5, दीपक दरबार से 1, सुभाष टेकड़ी से 3, सेक्शन 26 से 1, सेक्शन 25 से 1, सेक्शन 28 से 1, मराठा सेक्शन से 2, आर्शिवाद सोसायटी से 1, स्टेशन रोड से 1, संतोष नगर से 1, आजीएस स्कूल के पास से 2, महात्मा फुले नगर से 3, श्रीराम पेट्रोल पंप से 1, कुर्ला कैम्प रोड से 7, उल्हासनगर-5 भाजी मार्केट से 1, वीर तानाजी नगर से 3, खामदेव पाडा से 1, दशहरा मैदान से 1, आकाश कॉलोनी से 2, स्वामी शांतिप्रकाश आश्रम के पास से 2, एसएसटी कॉलेज के पास से 2, हनुमान नगर से 1 मरीज का समावेश है। उल्हासनगर-3 में दो कोरोना ग्रस्त लोगों की मौत हुई है।
अंबरनाथ। अंबरनाथ में रविवार को 45 नए कोरोना ग्रस्त मिले हैं। शहर में कुल संख्या अब 1681 हो गई है। रविवार को दो मरीजों की मृत्यु हुई है। आज तक मृतकों की संख्या 40 हो गई है। शहर में मृत्यु दर 2.4 प्रतिशत है। एक्टिव मरीजों की संख्या 868 है। 635 का डेंटल कोविड अस्पताल में और होम क्वारनटाईन में 233 रोगियों का ईलाज चल रहा है। ठीक होकर 733 मरीज घर लौटे हैं। लॉकडाऊन के 6ठें दिन तक प्रशासन कोरोना पर कंट्रोल करने में नाकाम रही है। कोरोना के बढ़ते मरीज चिंता का विषय बनते जा रहे हैं। एक बात जरूर है अंबरनाथ में स्वेब टेस्ट बहुत ज्यादा 3384 हुए हैं। जिसके कारण बाधितों की संख्या में बढ़ोत्तरी हो रही है। अभी तक 1539 की रिपोर्ट नेगेटिव आयी है। रविवार को 54 लोगों के स्वेब टेस्ट किए गए हैं। शहर पश्चिम और पूर्व में कोरोना के रोगी बाधितों के संपर्क से बढ़ रहे हैं। 130 रिपोर्ट की प्रतिक्षा है। 
बदलापुर। कुलगांव-बदलापुर में भी कोरोना बाधितों की संख्या में रोजाना बढ़ोत्तरी हो रही है। रविवार को 35 नए रोगी प्राप्त हुए हैं। यहां पर कुल संख्या 721 हो गई है। ऐसे ही अगर संख्या बढ़ते रही तो यहां पर भी एक हजार का आकड़ा कोरोना के मरीजों का क्रास हो जाएगा। यहां पर 348 एक्टिव मरीज हैं। 358 ठीक होकर डिस्चार्ज किए गए हैं। मृतकों की संख्या 15 हो गई है। 816 को होम क्वारनटाईन किया गया है। 28 स्वेब रिपोर्ट की प्रतिक्षा हो रही है।
कल्याण। कल्याण डोम्बिवली शहर में कोरोना संक्रमितों के मामलों में आज कुछ कमी पाई गई कुल 369 कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि की गई जिंसके साथ ही कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 5678 तक जा पहुची है इनमें 3372 मरीजो का उपचार चल रहा है तो वही 2199 मरीज डिस्चार्ज हो चुके है वही आज 6 लोगो की मौत हो गयी इस आंकड़े के बाद मरनेवालों की संख्या बढ़कर 107 हो गयी है। रविवार के मिले आंकड़े के बाद जहां लोगों ने कुछ हद तक राहत की सास ली वही कल के आनेवाले आंकड़े को लेकर लोग चिंतित भी है कि क्या कल भी यह आंकड़े आज की तरह ही कम होंगे या बढ़ेंगे तो वही दूसरी तरफ लाकडाउन को भी लेकर लोगो मे तरह तरह की बाते की जा रही है कल से लाकडाउन किस तरह का होगा यह दुविधा लोगो के अंदर चल रही है ।

हीरो बोधा-युसूफ शेख

उल्हासनगर उल्हासनगर में शनिवार को 60 नए मरीज मिलने से शहर में कोरोना ग्रस्त मरीजों की संख्या अब 1528 हो गई है। शनिवार को कोरोना से एक व्यक्ति की मौत हो गई है जिससे मृतकों की संख्या 40 हो गई है। वहीं 44 मरीज कोरोना मुक्त होकर घर लौटे हैं जिससे कोरोना मुक्त मरीजों की संख्या 878 हो गई है। एक्टिव मरीजों की संख्या 610 है जिनका ईलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है। शनिवार को उल्हासनगर-1 से 5 तक जिन क्षेत्रों से मरीज मिले हैं उनमें उल्हासनगर-1 सेंचुरी रेयॉन कॉलोनी से 2, उत्तम अपार्टमेंट के पास से 1, साधुबेला स्कूल के पास से 2, स्वीट अपार्टमेंट के पास से 1, तोमर अस्पताल के पास से 2, कमला नेहरू नगर से 1, उल्हासनगर-2 झुलेलाल मंदिर के पास से 2, साई टेऊराम रोड से 3, खेमानी रोड से 1, महात्मा गांधी नगर से 1, सीरू चौक परिसर से 2, फर्निचर बाजार परिसर से 2, हरिव्दार अपार्टमेंट के पास से 1, सी ब्लॉक रोड  से 1, उल्हासनगर-3 पंजबी कॉलोनी परिसर से 1, गणेश मंदिर के पास से 1, शिवनेरी नगर से 1, साई बाबा मंदिर परिसर से 1, साईबाबा नगर से 1, शिवमंदिर के पास से 1, गौतम बुद्ध नगर से 1, उल्हासनगर-4 सेक्शन 26 से 2, सुभाष टेकड़ी से 8, सेक्शन 29 से 1, मराठा सेक्शन से 1, गणपति मंदिर परिसर से 1, संभाजी चौक परिसर से 4, कुर्ला कैम्प परिसर से 1, शांति सागर होटल के पास से 1 व अन्य 2 उल्हासनगर-5 तानाजी नगर से 1, पोस्ट ऑफीस के पास से 1, बैंक ऑफ इंडिया के पास से 1, बस स्टॉप के पास से 1, गायकवाड़ पाड़ा से 1, भाटिया चौक से 1, भगवानदास अस्पताल के पास से 1 तथा 3 अन्य क्षेत्रों से मरीज मिले हैं। इस तरह शहर में 60 नए मरीज मिले हैं जिनमें 51 मरीजों का ईलाज घरों में ही चल रहा है। उल्हासनगर के बाहर 46 मरीजों का ईलाज चल रहा है। 
अंबरनाथ अंबरनाथ में शनिवार को फिर कोरोना का बम फटने से एक ही दिन में 140 नए पॉजिटीव मरीज मिले हैं। जिससे शहर में मरीजों की कुल संख्या 1636 हो गई है। शहर में इस बात की चर्चा है कि सांसद डॉक्टर, विधायक डॉक्टर, मुख्याधिकारी डॉक्टर, उपमुख्याधिकारी डॉक्टर, नोडल अधिकारी डॉक्टर इतने सारे डॉक्टर होते हुए भी शहर में कोरोना कंट्रोल में नहीं आ रहा है यह तो आश्चर्य की बात है। अंबरनाथ में मृतकों की संख्या 38 हो गई है। शनिवार को अंबरनाथ शहर लॉकडाऊन बंद के पांचवे दिन बहुत बड़ी संख्या में कोरोना के मरीज मिले हैं जिसमें एक की मौत भी हुई है। अच्छी खबर यह है कि अब तक 754 लोग ठीक होकर घर गए हैं। 212 स्वेब रिपोर्ट आयी है जिसमें 140 पॉजिटीव और 70 नेगेटिव आए हैं। अंबरनाथ में आज तक 3305 के स्वेब कलेक्शन किए गए हैं। 114 रिपोर्ट प्रतिक्षा में है। आज कोरोना के मरीज सबसे ज्यादा मिले हैं। जिसने सबकी चिंता बढ़ा दी है। एक्टिव मरीज शहर में 844 है।
बदलापुर। कुलगांव-बदलापुर नगरपालिका क्षेत्र में शनिवार को 26 कोरोना के नए रोगी मिले हैं। यहां पर भी कोरोना मरीजों की संख्या में दिन प्रतिदिन बढ़ोत्तरी हो रही है लेकिन अन्य शहरों के मुकाबले यहां स्थिति नियंत्रण में है। यहां पर कुल मरीजों की संख्या 686 हो गई है और मृतकों की संख्या अब 15 है। यहां पर एक्टिव मरीज 313 बताए गए हैं। 358 मरीज ठीक होकर घर गए हैं। जो नए मरीज मिले हैं उनमें से दो डॉक्टर, दो पुलिस कर्मी के अलावा उल्हासनगर में एक बैंक में काम करने वाला कर्मचारी है।
कल्याण। कल्याण डोम्बिवली शहर में कोरोना संक्रमितों की संख्या में शनिवार कमाल की उछाल आयी मात्र 24 घंटो में 436 कोरोना संक्रमित मरीजो की पुष्टि की गई जिंसके साथ ही कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 5309 तक जा पहुची है इनमें 3079 मरीजों का उपचार चल रहा है तो वही 2129 मरीज डिस्चार्ज हो चुके है वही आज 5 लोगो की मौत हो गयी इस आंकड़े के बाद मरनेवालों की संख्या बढ़कर 101 हो गयी है। मात्र 24 घंटो में आये इस आंकड़े ने सबको हिलाकर रख दिया है वही मनपा के सारे नियम व कानून इन आकड़ो के सामने कमजोर पड़ते जा रहे है अब मनपा को कुछ ऐसे ठोस कदम अपनाने ही होंगे नही तो यहां की हालत भयानक मोड़ ले लेगी जिसे रोक पाना शायद ही संभव हो वही इसकी रोकथाम के लिए लाकडाउन ही एक मात्र उपाय नजर आ रहा है अगर लाकडाउन के समय के आकड़ो पर नजर डाली जाए तो उस समय 20-30 के ऊपर मरीज नही पाये जाते थे पर लाकडाउन में ढील होते ही मरीजों की संख्या में विस्फोट होता जा रहा है।

हीरो बोधा-युसूफ शेख

उल्हासनगर। उल्हासनगर मनपा क्षेत्र में शुक्रवार को 62 नए मरीज मिले हैं जिससे शहर में कोरोना ग्रस्त मरीजों की कुल संख्या 1468 हो गई है। अब तक 834 मरीज कोरोना मुक्त होकर घर लौटे हैं। शहर में 595 एक्टिव मरीजों का ईलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है। मृतकों की संख्या यहां पर 39 बताई गई है।उल्हासनगर शहर में संक्रमित मरीजों के बिल्डिंग के साथ दुकानों को सील करने से दुकानदार परेशान हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर शहर में पूर्ण लाॅकडाऊन व कफर्यू की मांग बढ़ रही है क्योंकि यहां पर लोग बेपरवाह घूम रहे हैं। शहर में जगह जगह खान-पान की सुविधा आम दिनों की तरह देर रात तक मिल रही है। गोल मैदान परिसर में लोग रात भर सैर सपाटे के लिए घूम रहे हैं जहां खान-पान की हर सुविधा काउंटर सेल मार्फत शुरू है। जो खतरनाक साबित हो सकता है। नाईट कफर्यू की धज्जियां शहर में उड़ाई जा रही है।उल्हासनगर में शुक्रवार को कैम्प 1 से 5 तक मिले 62 मरीज इस प्रकार हैंः- उल्हासनगर-1 तेजुमल चक्की से 1, शहाड फाटक से 1, राॅयल रेसिडेंसी से 2, सोनारा हाॅल परिसर से 1 व अन्य परिसर से 5, उल्हासनगर-2 के 24 स्कूल परिसर से 1, झुलेलाल मंदिर परिसर से 5, रिजेंसी होटल परिसर से 1, खेमानी परिसर से 1, आजाद नगर से 1, व अन्य क्षेत्र से 3 , उल्हासनगर-3 सेंट्रल अस्पताल परिसर से 1, सुभाष नगर से 1, राहुल नगर से 1, दसेरा मैदान से 1, ओटी सेक्शन से 3, शिवाजी चौक से 1, गौतम नगर से 1, चोपड़ा कोर्ट से 1, आंबेडकर नगर से 1, शांतिनगर से 1, शिव काॅलोनी से 1, सेक्शन 17 से 1, सेक्शन 21 से 1 व अन्य क्षेत्र से 4, उल्हासनगर-4 मराठा सेक्शन से 1, सेक्शन 25 से 1, सेक्शन 28  से 1, सेक्शन 30 से 1, महावीर अस्पताल से 1, लाल चक्की से 2, सरकारी दवाखाने के पास से 1, गणपति मंदिर से 1, महात्मा फुले नगर से 4, उल्हासनगर-5 गायकवाड़ पाड़ा से 1, सेक्शन 39 से 1, कुर्ला कैम्प से 2, कैलाश काॅलोनी से 1, हिरापुरी चौक से 1, वीर तानाजी नगर से 2 कोरोना के मरीज मिले हैं। आज किसी भी कोरोना ग्रस्त की मौत नहीं हुई है वहीं 43 मरीज कोरोना मुक्त होकर घर लौटे हैं।  
ईलाज न मिलने से गैर कोरोना ग्रस्त मरीजों की हो रही मौत
कोरोना महामारी के कारण गैर कोरोना ग्रस्त मरीजों की अब मौत शहर में लगातार हो रही है क्योंकि कोई भी अस्पताल बिना कोरोना रिपोर्ट के मरीज का ईलाज नहीं कर रहा है। शहर में कुछ दिनों पूर्व उल्हासनगर-3 सेक्शन 17 निवासी अनिल रामनानी नामक व्यक्ति को सांस लेने में परेशानी हो रही थी उनके परिजनों ने ईलाज हेतु शहर में करीब 3 घंटे तक करीब सभी अस्पतालों के चक्कर काटे लेकिन सभी ने कहा पहले कोरोना टेस्ट लेकर आए जबकि उसकी रिपोर्ट आने में ही 4-5 दिन लगते हैं। आखिरकार डोंबिवली के ममता अस्पताल में उन्हें भर्ती किया गया जहां ईलाज के दौरान उनकी मृत्यु हो गई। यह घटना सोमवार रात की बताई गई है। मृतक के पुत्र आशीष रामनानी ने अपने पिता की मौत का जिम्मेदार सरकारी तंत्र को बताया है और कहा कि अगर मेरे पिताजी को समय पर वेंटीलेटर पर ही अस्पताल में ईलाज मिला जाता तो वे आज जीवित होते। शहर में इस तरह के कई ऐसे मामले सामने आ रहे हैं। ऐसे गैर कोरोना ग्रस्त मरीजों को इस बीमारी के डर से अस्पतालों द्वारा ईलाज न मिलने के कारण शहरवासियों में रोष व्याप्त है। शहर के नेताओं को इस बाबत ध्यान देने की ज्यादा जरूरत है।
अंबरनाथ। अंबरनाथ में शुक्रवार को 19 नए बाधित मिले हैं। लाॅकडाऊन के चौथे दिन एक अच्छे खबर यही है। शहर में कोरोना ग्रस्त मरीजों की कुल संख्या 1496 हो गई है। शुक्रवार को शहर पूर्व लोकनगरी निवासी एक व्यक्ति की कोरोना से मृत्यु हुई है। आज तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 37 हो गई है। अंबरनाथ नगरपरिषद द्वारा भेजे गए कोरोना रिपोर्ट में ये दर्ज नहीं किया गया है कि आज कितने बाधित ठीक होकर घर गए हैं जबकी आज कई लोगों को डेंटल काॅलेज कोविड अस्पताल से छुट्टी दी गई है। 749 बाधितों का उपचार चल रहा है। कई मरीज होम क्वारनटाईन होकर अपना उपचार करवा रहे हैं। 305 लोगों के स्वेब टेस्ट रिपोर्ट की प्रतिक्षा है। अंबरनाथ में आज तक 3296 लोगों के कोविड 19 की जांच की गई है। आज पूर्व से ज्यादा बाधित मिले हैं। पूर्व से 10 बाधित मिले हैं। और एक की मौत हुई है। पश्चिम में 8 कोरोना बाधित मिले हैं।
बदलापुर। बदलापुर नपा क्षेत्र में आज 11 बाधित मिले हैं। यहां पर मरीजों की कुल संख्या 660 हो गई है। यहां पर ठीक होने वालों का प्रतिशत 50 प्रतिशत से ज्यादा है। 334 बाधित ठीक होकर घर गए हैं। बदलापुर में शुक्रवार को दो डाॅक्टर, एक पुलिस कर्मी, एक रेलवे कर्मचारी और एक डी मार्ट के कर्मचारी कोरोना से बाधित हुआ है। यहां पर 311 मरीजों का उपचार चल रहा है। आज 11 रिपोर्ट प्राप्त हुई है और 11 ही पाॊजिटीव पाए गए हैं। 60 स्वेब टेस्ट रिपोर्ट की प्रतिक्षा है।
कल्याण। कल्याण डोम्बिवली शहर में कोरोना मामलों में दिन दूनी रात चौगुनी बढ़ोत्तरी होती जा रही है इसी क्रम में आज 358 कोरोना संक्रमित मरीजो की पुष्टि की गई जिंसके साथ ही कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 4873 तक जा पहुची है इनमें 2678 मरीजो का उपचार चल रहा है तो वही 2099 मरीज डिस्चार्ज हो चुके है वही आज 5 लोगों की मौत हो गयी इस आंकड़े के बाद मरनेवालों की संख्या बढ़कर 96 हो गयी है । कडोमपा क्षेत्र में लगातार बढ़ रहे कोरोना मरीजो की संख्या को देखते  हुए महानगरपालिका वै. ह.भ.प. सावळाराम क्रिडा संकुल डोंबिवली के कै. सुरेंद्र वाजपेयी बंदिस्त क्रीडागृह में 30 बेड का आयसीयु सुविधा व 170 बेड का ऑक्सीजन की सुविधा युक्त Dedicated Covid Health Centre का निर्माण भी किया जा रहा है जो कि 1 जुलाई से कार्यान्वित हो जाएगा इसी तरह लाल चौकी, कल्याण (प) में बीओटी पद्धति पर एक इमारत में 120 बेड की आयसीयू व 250 बेड की ऑक्सीजन सुविधा युक्त Dedicated Covid Health Centre तथा डोंबिवली में जिमखाना परिसर में 150 बेड की आयसीयू व 300 बेड की ऑक्सीजन सुविधा युक्त Dedicated Covid Health Centre का निर्माण कार्य प्रारंभ किया जा रहा है जो कि 15 जुलाई तक पूरा होने की जानकारी मनपा ने दिया है जिससे कोरोना मरीजों को और भी बेहतर उपचार दिया जा सकेगा ।



उल्हासनगर महानगरपालिका के कुछ
नगरसेवक भी पाए गए पाॅजिटीव

 
उल्हासनगर। उल्हासनगर महानगरपालिका क्षेत्र में कोरोना कहर ने मनपा अधिकारियों के बाद अब नगरसेवकों को भी अपनी चपेट में ले लिया है। वहीं नए मनपा आयुक्त डाॅ. राजा दयानिधी ने गुरुवार शाम को चार्ज ले लिया है। सूत्रों से खबर मिली है कि गुरुवार को दो भाजपा नगरसेवक, एक शिवसेना तथा एक आरपीआय नगरसेवक के पॉजिटीव पाए जाने की जानकारी मिली है। जिसमें से एक भाजपा नगरसेवक ने इसकी पुष्टि कर ली है। गुरुवार को कोरोना विस्फोट से एक ही दिन में 129 मरीज मिले हैं जिससे शहर में कोरोना ग्रस्त मरीजों की संख्या अब 1406 हो गई है। गुरुवार को तीन कोरोना ग्रस्त मरीजों की मौत की जानकारी मनपा ने अपनी प्रेस विज्ञप्ति में दी है। शहर में अब 576 एक्टिव मरीज अपना ईलाज विभिन्न अस्पतालों में करवा रहे हैं। गुरुवार को 64 मरीज कोरोना मुक्त होकर घर लौटे हैं जिससे कोरोना मुक्त मरीजों की संख्या अब 791 हो गई है। उल्हासनगर-1 से 5 तक जिन क्षेत्रों से कोरोना के मरीज मिले हैं उनमें उल्हासनगर-1 तेजूमल चक्की से 1, शहाड फाटक से 2, शिवनेरी नगर से 1, राॅयल रेसिडेंसी से 2, साधुबेला स्कूल के पास से 2, न्यू टेलीफोन एक्सचेंज से 1, डाॅ. नाथानी क्लीनिक के पास से 6, गोल मैदान परिसर से 3, उल्हासनगर-2 के बेवस चौक से 3, ओटी सेक्शन से 1, नेहरू चौक से 1, महाकाली मंदिर से 1, झुलेलाल स्कूल परिसर से 2, हिरा मैरेज हाॅल परिसर से 1, खेमानी परिसर से 13, सोनार गली से 3, आजाद नगर से 2 व अन्य क्षेत्र से 2, उल्हासनगर-3 सेंट्रल अस्पताल परिसर से 1, सम्राट अशोक नगर से 2, फाॅलवर लाईन परिसर से 1, राहुल नगर से 1, ओटी सेक्शन से 2, आनंद नगर से 2, पंजाबी काॅलोनी से 8, चोपड़ा कोर्ट से 1, सपना गार्डन से 1, शांतिनगर से 2, रिलायंस वेब वलर्ड से 4, महाराजा हाल के पास से 1, धोबीघाट परिसर से 1, सेक्शन 23 से 1, टाऊन हाल पिरसर से 1, वडवली गांव से 2, जगनानी मार्ग से 1 व अन्य परिसर से 1, उल्हासनगर-4 सुभाष टेकड़ी से 10, संभाजी चौक से 2, श्रीराम चौक से 1, मराठा सेक्शन से 1, सेक्शन 25 से 1 सेक्शन 28 से 1, धीरज काॅलोनी से 3, कुर्ला कैम्प से 2, लाल चक्की से 2, भाटिया चौक से 2, गीता कालोनी से 1, सेक्शन 25 से 1, उल्हासनगर-5 गायकवाड़ पाड़ा से 2, सेक्शन 36 से 1, राशन आफीस परिसर से 1, साई वसणशाह दरबार से 1, भाटिया रोड से 11, वीर तानाजी नगर से 4 व एक अऩ्य परिसर से शामिल है।
अंबरनाथ। अंबरनाथ में गुरुवार को 71 नए बाधित मिलने से कुल संख्या 1477 हो गई है। गुरुवार को एक अच्छी खबर ये आयी है कि एक ही दिन में 120 कोरोना मुक्त होकर अपने घर गए हैं। बुधवार तक ठीक होने वालों की संख्या 556 थी जो गुरुवार को 676 हो गई है। गुरुवार को कोरोना से दो की मृत्यु हुई है। एक 44 वर्षीय पुरुष और एक 40 वर्षीय महिला की मौत हुई है। मरने वालों की संख्या अब 36 हो गई है। शहर में 765 एक्टिव मरीज है। ये मरीज डेंटल कॉलेज के कोविड अस्पताल में 565 और 200 होम क्वारनटाईन में है जिसका भी स्वेब टेस्ट लिया जा रहा है उसे तुरंत महात्मा गांधी विद्यालय में होम क्वारनटाईन किया जा रहा है। कोविड अस्पताल में शहर के 9 डॉक्टर अलग-अलग शिप्ट में अपनी ड्यूटी अंजाम दे रहे हैं। शहर के 150 निजी डॉक्टर स्वेच्छा से अपनी ड्यूटी अंजाम दे रहे हैं। ये 9 डॉक्टर सात दिनों तक डेंटल कॉलेज में उपचार ले रहे मरीजों का ईलाज करेंगे। उन्हें पास में एक होटल में रखा गया है। इन 9 डॉक्टरों को बाद में सात दिन यहीं पर क्वारनटाईन करके रखा जाएगा। ये डॉक्टर 14 दिनों तक अपने घर वालों से भी नहीं मिलेंगे। दै. उल्हास विकास इन निजी डॉक्टरों को सलाम करता है जो अपनी जान पर खेलकर एवं अपने परिवार से 14 दिनों तक दूर रहकर अपने शहरवासियों का उपचार कर रहे हैं।
बदलापुर। बदलापुर में गुरुवार को 31 मरीज मिले हैं। यहां कुल संख्या 649 हो गई है। यहां पर एक व्यक्ति की कोरोना से मौत हुई है। बदलापुर में मृतकों की संख्या 14 हो गई है। 311 बाधितों का उपचार चल रहा है। 324 ठीक होकर डिस्चार्ज किए गए हैं। यहां पर जो बाधित मिले हैं उसमें एक पुरुष ठाणे सेंट्रल जेल का कर्मचारी है। एक 25 वर्षीय महिला डी मार्ट में कर्मचारी तो एक पुलिस कर्मी ठाणे पुलिस कर्मी है। खबर मिली है कि बदलापुर पुलिस स्टेशन के सात पुलिस कर्मी कोरोना बाधित हुए हैं।
कल्याण। कल्याण डोम्बिवली शहर में कोरोना वायरस के मामले में तेजी से उछाल आता जा रहा है गुरुवार को सबसे अधिक 323 कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि की गई जिसके साथ ही कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 4515 तक जा पहुची है इनमें 2365 मरीजों का उपचार चल रहा है तो वही 2059 मरीज डिस्चार्ज हो चुके है वहीं आज 6 लोगो की मौत हो गयी इस आंकड़े के बाद मरनेवालों की संख्या बढ़कर 91 हो गयी है। लगातार मरीजों की संख्या में आ रही तेजी मनपा के लिए चिंता का विषय बन गया है वही मरने वालों की संख्या में भी रोकथाम नही लग पा रही है प्रतिदिन मरनेवालों के आंकड़े शुभ संकेत नही दे रहे है इस संकट की घड़ी में किस तरह खुद को सुरक्षित रखा जाय यह भी एक समस्या बन गयी है लगातार लोगो को क्रेडिट कार्ड, लोन विभाग व बिजली विभाग की तरफ से बिल भेज पैसे भरने के लिए फोन किया जाता रहता है ऐसे में ना चाहते हुए लोगो को घरों से बाहर निकलना ही पड़ता है और वे इस बीमारी के चपेट में आ जाते है इसपर भी सरकार को ध्यान देना चाहिए और सभी प्रकार के लोन विभाग वालो पर सख्त कदम उठाए जाने चाहिए जब तक कि स्थिति सही ना हो जाए।




हीरो बोधा-युसूफ शेख
उल्हासनगर। उल्हासनगर महानगरपालिका क्षेत्र में बुधवार को 69 कोरोना के पॉजिटीव मरीज शहर के विभिन्न इलाकों से मिले हैं। ज्यादातर मरीज कोरोना मरीजों के संपर्क में आए हुए बताए गए हैं। उल्हासनगर-3 ओटी सेक्शन सम्राट अशोक नगर जहां कोरोना मुक्त हुआ ही था कि यहां फिरसे मरीज मिलने शुरू हो गए हैं। शहर में अब तक कोरोना ग्रस्त मरीजों की संख्या 1277 हो गई है। बुधवार को 38 मरीज ठीक होकर अपने घर लौट गए हैं जिससे कोरोना मुक्त मरीजों की संख्या अब 727 बताई गई है। वहीं 514 एक्टिव मरीजों का ईलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है। मरने वालों की संख्या अभी भी 36 ही है। बुधवार को नए आयुक्त डॉ. दयानिधी राजा के चार्ज लेने की संभावना थी क्योंकि वो गोंदिया में रहते हैं इस कारण ऐसा अनुमान है कि वो गुरुवार अथवा शुक्रवार को चार्ज लेंगे। आयुक्त समीर उन्हाले बुधवार को अपने कार्यालय में उपस्थित थे।
उल्हासनगर शहर में बुधवार को कैम्प 1 से 5 तक 69 मरीज इन इलाकों से मिले हैं:- उल्हासनगर-1 भाजी मार्केट से 1, कमला नेहरू नगर धोबीघाट से 8, अमन टॉकीज रोड से 4, उल्हासनगर-2 सेक्शन 19 से 1, ओटी सेक्शन से 1, सीरू चौक से 4, उल्हासनगर-3 सम्राट अशोक नगर से 3, राहुल नगर से 1, ओटी सेक्शन से 3, आनंद नगर से 1, पंजाबी कॉलोनी से 9, चोपड़ा कोर्ट से 4, शांतिनगर से 2, स्टेशन रोड से 1, उल्हासनगर-4 सुभाष टेकड़ी से 4, एकता नगर से 1, आदर्श नगर से 3, सेक्शन 32 से 1, भक्ती पीठ से 1, वीटीसी से 1, कृष्णा कॉलोनी से 1, गीता कॉलोनी से 1, गुजराती पाड़ा से 1, उल्हासनगर-5 सेक्शन 36 से 1, सरकार पाड़ा से 1, गायकवाड़ा पाड़ा से 3, आशेला गांव से 1, गांधी रोड से 3, तानाजी नगर से 1, हिरानंदानी पार्क से 1 व 1 अन्य क्षेत्र से मिला है। जब मरीजों की विस्तृत जानकारी हेतु आरोग्य अधिकारी डॉ. राजा रिजवानी से यह सवाल किया गया कि पत्रकारों को जानकारी क्यों नहीं दी जा रही है? इस पर उन्होंने कहा कि शुक्र करें कि आप लोगों को इतनी जानकारी मिल रही है अब यह जानकारी भी बंद करके केवल आकड़े दिए जाएंगे। इससे यह जाहिर हो रहा है कि आरोग्य विभाग शहरवासियों को मरीजों की जानकारी नहीं देना चाहे रहे हैं जिससे दाल में कुछ काला लग रहा है। अन्यथा अंबरनाथ और बदलापुर नगरपालिका की तरह मरीजों की जानकारी के साथ स्वेब कलेक्शन व क्वारनटाईन लोगों की भी जानकारी दी जा रही है। आरोग्य विभाग में हो रहे भ्रष्टाचार का जल्द ही पर्दाफाश किया जाएगा। जिस तरह आरोग्य विभाग ने निजी अस्पताल के जरिए नगरसेवकों व निजी डॉक्टरों से मिलीभगत करके बंदर बांट शुरू किया गया है वो जल्द ही शहर के सामने आएगा। 
अंबरनाथ। अंबरनाथ में लॉकडाऊन के दूसरे दिन फिरसे कोरोना के मरीज बढ़ गए हैँ। बुधवार को 84 कोरोना संक्रमित पाए जाने से कुल संख्या अब 1406 हो गई है। बढ़ते कोरोना के ससंर्ग ने अंबरनाथ के मुख्याधिकारी का तबादला करा दिया है। आज तक 816 एक्टिव मरीज हैं। 34 की मौत हो गई है। आज 122 स्वेब की रिपोर्ट प्राप्त ुहई है जिसमें 38 नेगेटिव और 84 पॉजिटीव मिले हैं। डेंटल कॉलेज के कोविड अस्पताल में 609 रोगी है और 207 को होम क्वारनटाईन किया गया है। 700 बेड का कोविड अस्पताल भी फूल हो रहा है। 556 मरीजों ने कोरोना को मात देकर घर गए हैं। ठीक होने वालों की संख्या 40 प्रतिशत से भी कम है। आज तक अंबरनाथ में 3164 लोगों के स्वेब कलेक्शन किए गए हैं जिसमें 1406 की रिपोर्ट नेगेटिव है। 320 के स्वेब रिपोर्ट की प्रतिक्षा है। नपा के क्वारनटाईन सेंटर में 45 को रखा गया है। आज शहर पश्चिम के जावसाई गांव से 13, खुंटवली भवानी चौक से 7, शिव मार्केट बांगड़ी से 5, स्वामी नगर से 5, पूर्व में कानसाई से 4, मोतीराम पार्क और बीकबीन से भी बाधित मिले हैं।
बदलापुर। बदलापुर में बुधवार को 25 रोगी मिले हैं। यहां कुल संख्या 618 हो गई है। 289 एक्टीव मरीज हैं। 316 मरीज ठीक होकर घर गए हैं। यहां पर ठीक होने वाले मरीजों का प्रतिशत 50 प्रतिशत से भी ज्यादा है। 37 स्वेब रिपोर्ट की प्रतिक्षा है।
कल्याण। कल्याण डोम्बिवली शहर में बुधवार 226 कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि की गई जिसके साथ ही कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 4192 तक जा पहुची है इनमें 2419 मरीजो का उपचार चल रहा है तो वही 1688 मरीज डिस्चार्ज हो चुके है वही आज 4 लोगों की मौत हो गयी इस आंकड़े के बाद मरनेवालों की संख्या बढ़कर 85 हो गयी है। लगातार हो रही मौते यहां के लिए गंभीर विषय बन गए है इस संदर्भ में सामान्य जनता का कहना है कि आखिरकार मनपा कर क्या रही है वह इसकी रोकथाम के लिए क्या उपाय कर रही है क्यो इन आकड़ो पर अंकुश नही लग पा रहा है उसे भिवंडी की तर्ज पर कडोमपा क्षेत्र में भी कुछ ठोस कदम उठाने चाहिए ताकि यह आंकड़े कम हो जाये जिस तरह से रोजाना 200 के आंकड़े आ रहे है इससे मनपा की मुश्किलें और भी बढ़ सकती है मरीजो की तेजी से बढ़ती संख्या से मनपा अस्पतालों में भी स्थान नही जाएगा ।




20 मई को कोरोना ग्रस्त मरीजों का आकड़ा 144
23 जून को कोरोना ग्रस्त मरीजों का आकड़ा 1208
* 83 नए मरीज * एक्टिव मरीज 483 * कोरोना मुक्त 689 * अब तक 36 की मौत
उल्हासनगर। उल्हासनगर महानगरपालिका में करीब एक माह पूर्व 20 मई को सुधाकर देशमुख के तबादले के बाद आयुक्त का पद्भार संभालने वाले समीर उन्हाले को हटाकर उनकी जगह महाराष्ट्र के गोंदिया जिलापरिषद में मुख्य कार्यकारी अधिकारी के तौर पर कार्यरित डॉ. मंताडा राजा दयानिधी जोकि एक आयएएस अधिकारी है उनकी नियुक्ति उल्हासनगर मनपा में बतौर आयुक्त के की गई है। इस तरह का आदेश मंगलवार 23 जून को महाराष्ट्र शासन के अपर मुख्य सचिव सीताराम कुंटे ने निकाला है। ज्ञात हो कि जब मनपा आयुक्त समीर उन्हाले ने मनपा का चार्ज लिया था तब शहर में केवल 144 कोरोना मरीज थे और आज कोरोना ग्रस्त मरीजों का आकड़ा 1208 हो गया है। इससे यह जाहिर है कि प्रशासन की लापरवाही से ही कोविड के मामले बढ़ रहे हैं और सरकार ने इस कारण ही उन्हाले को हटाकर डॉ. दयानिधी राजा को गोंदिया से उल्हासनगर भेजा है। देशमुख और उन्हाले के कार्यकाल में जो कोरोना का गोरखधंधा चल रहा था उस पर भी अब जरूर लगाम लगेगी क्योंकि डॉ. राजा का रिकार्ड अच्छा बताया गया है। खबर मिली है कि नए आयुक्त डॉ. दयानिधी आज कल में चार्ज ले लेंगे। 
   उल्हासनगर महानगरपालिका क्षेत्र में मंगलवार को 83 कोरोना संक्रमित मिले हैं। जिससे शहर में कोरोना ग्रस्त मरीजों की संख्या 1208 हो गई है। इनमें से 689 मरीज कोरोना मुक्त होकर अपने घर लौट गए हैं वहीं 483 मरीज अपना ईलाज विभिन्न अस्पतालों में करवा रहे हैं। शहर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 36 ही है। शहर में एक ही दिन में मिले 83 मरीज चिंता का विषय बन गया है। वहीं इस बीच मनपा आयुक्त समीर उन्हाल के तबादले से शहर में चर्चाओं का बाजार गर्म है। आज कल में नए आयुक्त डॉ. राजा दयानिधी चार्ज लेने वाले हैं। उल्हासनगर-1 से 5 तक इन क्षेत्रों में मंगलवार को मरीज मिले हैं:- उल्हासनगर-1 परिसर से 3, शहाड फाट परिसर से 2, टिलक नगर से 1, तानाजी नगर से 2, हनुमान नगर से 2, मुकुंद नगर से 2, सुभाष नगर से 2, गोल मैदान परिसर से 9 मरीज मिले हैं। उल्हासनगर-2 नेहरू चौक परिसर से 1, खेमानी परिसर से 1, फर्निचर बाजार के पास से 1, रमाबाई नगर से 2, ओटी सेक्शन से 1 व अन्य क्षेत्र से 2 मिले हैं। उल्हासनगर-3 पंजाबी कॉलोनी परिसर से 4, रामायण नगर परिसर से 1, चोपड़ा कोर्ट से 3, ओटी सेक्शन से 6, शांतिनगर से 1, आनंद नगर से 7, सुभाष नगर से 1, मधुसुदन आश्रम परिसर, सेंट्रल अस्पताल परिसर से 1, सम्राट अशोक नगर से 1, से 1, फॉल्वर लाईन परिसर से 2 व 3 मरीज अन्य क्षेत्र से मिले हैं। उल्हासनगर-4 अंबिका माता मंदिर से 1, सुभाष टेकड़ी से 2, पेंसिल फैक्ट्री परिसर से 1, दत्त मंदिर के पास से 1, मौर्यानगर से 1 व 1 अन्य क्षेत्र से मरीज मिला है। उल्हासनगर-5 के सरदार पाड़ा से 2, शिव कॉलोनी से 6, गायकवाड़ पाड़ा परिसर से 3, प्रेम नगर टेकड़ी से 2, पोस्ट ऑफीस के पास से 1 व दशहरा मैदान से 1 कोरोना बाधित मिला है। जबसे ज्यादा मरीज उल्हासनगर-3 ओटी सेक्शन व उल्हासनगर-5 के शिव कॉलोनी से 6-6 मरीज मिले हैं। 483 कोरोना ग्रस्तों का ईलाज कोविड अस्पताल में 70, कामगार अस्पताल में 60, टेऊराम सेंटर में 16, आंबेडकर अभ्यासिका में 125, आयटीआय में 81, सेंट्रल पार्क में 40, सत्यसाई प्लॉटीनम में 41 और शहर के बाहर 35 मरीजों का ईलाज चल रहा है। इनमें से 17 मरीज अभी भी आयसीयु में है, 435 मरीजों में कोरोना के लक्षण कम है वहीं 31 मरीजों में ज्यादा लक्षण बताए गए हैं।  उल्हासनगर शहर में 150 बेड का नया कोविड अस्पताल सीसीसी वेदंता कॉलेज विट्ठलवाड़ी उल्हासनगर-3 के सौजन्य से शुरू किया गया है जिससे अब मरीजों का ईलाज वहीं पर भी किया जाएगा। ज्ञात हो कि कोरोना के गोरख धंधे में कंटेनमेंट झोन सील के मामले में शहर के निजी डेकोरेटर्स का भंडाफुट चुका है। साथ ही निजी अस्पतालों द्वारा मोटी रकम लेकर जो मरीजों के साथ लूट खसोट चल रही है उस पर क्या नए आयुक्त लगाम लगाएंगे यह देखने वाली बात होगी।  वहीं कोविड अस्पताल में खान-पान की सुविधा अभी भी सुचारू रूप से नहीं होने की शिकायत मरीज कर रहे हैं घटिया दर्जे का भोजन व साफ सफाई का अभाव कोविड अस्पताल व सेंटर में देखने को मिल रहा है। क्वारनटाईन सेंटर में सस्पैक्डेड मरीजों भी इसी तरह की सुविधाओं से वंचित हैं। उनका रख रखाव ठीक ढंग से नहीं होने से पॉजिटीव मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है। ऐसे मरीजों का विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है।





* अंबरनाथ में 53 नए मरीज, एक्टिव मरीज 732, कोरोना मुक्त 556, अब तक 34 की मौत
* बदलापुर में 24 नए मरीज, एक्टिव मरीज 283, कोरोना मुक्त 297, अब तक 13 की मौत
* कल्याण-डोंबिवली में 202 नए मरीज, एक्टिव मरीज 2237, कोरोना मुक्त 1648, अब तक 81 की मौत

अंबरनाथ। मंगलवार को अंबरनाथ में एक बार फिर लॉकडाऊन लगने के बावजूद कोरोना के 53 बाधित मिले हैं। दुकानें बंद होने पर भी कोरोना की चैन टूट नहीं रही है। कुल संख्या 1322 हो गई है। मंगलवार को कोरोना से तीन लोगो की मौत हुई है। जिससे मृतकों की संख्या 34 हो गई है। 732 एक्टिव रोगी है। लगता है जो 500 बेड का कोविड अस्पताल बनाया गया है वो एक हफ्ते में ही हाऊस फूल हो जाएगा। 556 बाधितों ने कोरोना को मात देकर घर लौटे हैं। आज 158 लोगों के स्वेब कलेक्शन लिए गए हैं। आज तक 3105 लोगों के स्वेब कलेक्शन किए गए हैं। 383 लोगों के स्वेब रिपोर्ट की प्रतिक्षा है। शहर के लोकल बोर्ड स्कूल में स्वेब कलेक्शन किए जा रहे हैं। यहां पर स्वेब देने वालों की भारी भीड़ हो रही है। सेल्फ डीस्टेंस का ख्याल नहीं रखा जा रहा है। बरसात में खुले आसमान के नीचे खडेे रहकर बरसात में भीगकर स्वेब दिया जा रहा है। यहां पर प्लास्टिक की छत लगाने की जरूरत है।  मंगलवार को शहर पश्चिम में गौसीया मस्जिा बुवापाड़ा के पास से 6 और पूर्व में गणपति मंदिर शिवाजी नगर के पास से 5, पश्चिम में भास्कर नगर से 6 कोरोना बाधित मिले हैं। शहर पश्चिम से 34 और पूर्व से 19 कुल ऐसे 53 कोरोना संक्रमित मिले हैं।
बदलापुर। बदलापुर में मंगलवार को 24 कोरोना ग्रस्त मिले हैं यहां कुल मरीजों की संख्या अब 593 हो गई है। मृतकों की संख्या 13 ही है। यहां एक 33 वर्षीय महिला पत्रकार को कोरोना हुआ है। तो दो पुलिस कर्मी और एक केडीएमसी का सफाई कर्मचारी कोरोना का शिकार हुआ है। 37 के स्वेब कलेक्शन किए गए हैं। आज तक कुल 1315 स्वेब कलेक्शन लिए गए हैं। 69 की रिपोर्ट की प्रतिक्षा है। 297 बाधित ठीक होकर घर गए हैं।
कल्याण। कल्याण डोम्बिवली मनपा अंतर्गत मंगलवार को भी कोरोना मरीजों का आकड़ा 200 पार हुआ है। मंगलवार को कुल 202 कोरोना संक्रमित पाए गए अब तक संक्रमितों की कुल संख्या 3966 मरीज हो चुकी है इनमें 2237 मरीजों का उपचार चल रहा है तो वही 1648 मरीज डिस्चार्ज हो चुके है वहीं इस बीमारी से लगातार लोग मर भी रहे है मंगलवार को चार मरीज इस बीमारी के शिकार हो गए जिसके पश्चात मरने वालों की संख्या बढ़कर 81 हो गयी है।



* उल्हासनगर में 69 नए मरीज, एक्टिव मरीज 435, कोरोना मुक्त 654, अब तक 36 की मौत
* अंबरनाथ में 130 नए मरीज, एक्टिव मरीज 707, कोरोना मुक्त 531, अब तक 31 की मौत
* बदलापुर में 17 नए मरीज, एक्टिव मरीज 264, कोरोना मुक्त 292, अब तक 13 की मौत
* कल्याण-डोंबिवली में 256 नए मरीज, एक्टिव मरीज 2092, कोरोना मुक्त 1598, अब तक 77 की मौत
हीरो बोधा-युसूफ शेख

उल्हासनगर। उल्हासनगर महानगरपालिका क्षेत्र में सोमवार को 69 कोरोना के मरीज पॉजिटीव पाए गए हैं जिसमें से तीन मरीजों की मौत भी हुई है। शहर में मरने वालों की संख्या 36 हो गई है। वहीं कुल मरीजों की संख्या अब 1125 है। 50 प्रतिशत से अधिक 654 मरीज ठीक हुए हैं। एक्टिव मरीजों का आकड़ा 435 बताया गया है जिनका ईलाज शहर के विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है। अब यह रोग कम्यूनिटी में दाखिल हो चुका है शहर के कई दुकानदारों और डॉक्टरों को अपनी पकड़ में ले लिया है। जिससे आने वाले समय में शहर में भारी कठिनाईयों का सामना करना पड़ सकता है। शहर में भिवंडी और अंबरनाथ की तर्ज पर अब पूर्ण लॉकडाऊन की आवश्यकता है क्योंकि यहां पर भी एक हजार से भी अधिक मामले हो गए हैं।
उल्हासनगर शहर में सोमवार को उल्हासनगर-1 से 2 मरीज मिले हैं, शिवाजी नगर से 1, तोमर अस्पताल के पास से 1, बालकृष्ण नगर से 2, मुकुंद नगर से 1, संभाजी नगर से 1, गोल मैदान परिसर से 2, साधुबेला स्कूल के पास से 1, उल्हासनगर-2 सीरू चौक परिसर से 1, खेमानी परिसर से 4, झुलेलाल स्कूल परिसर से 4, कौशल्यानगर से 1, उल्हासनगर-3 सपना गार्डन परिसर से 3, शिवाजी चौक परिसर से 1, चोपड़ा कोर्ट परिसर से 1, गावडे स्कूल के पास से 1, शांतिनगर से 1, आनंद नगर से 3, सुभाष नगर से 5, अंबिका नगर से 1, साईबाबा कॉलोनी से 1, सेंट्रल अस्पताल के पास से से 2, आंबेडनगर नगर से 4, सेक्शन 22 से 1, उल्हासनगर-4 अंबिका माता मंदिर से 4, सुभाष टेकड़ी से 1, सँभाजी चौक से 1, 3 अन्य परिसर से उल्हासनगर-5 से 2, तहसीलदार कार्यालय के पास से 1, गणपति मंदिर के पास से 1, शिवमंदिर परिसर से 1, आंबेडकर नगर से 1, सेक्शन 40 से 1, सेक्शन 35 से 1, सेक्शन 36 से 3, शाी नगर से 1, दूधनाका से 1, नेहरू नगर से 1 मरीज की मौत हुई है, आकाश कॉलोनी से 1 मरीज पॉजिटीव पाया गया है। शेष कोरोना से मरे दो अन्य मरीजों की जानकारी मनपा ने नहीं दी गई है लेकिन पता चला है कि मरने उपरांत रिपोर्ट पॉजिटीव आने के कारण उनका नाम सूची में नहीं है। सोमवार को 31 कोरोना मुक्त होकर घर लौटे हैं। 435 कोरोना ग्रस्तों का ईलाज कोविड अस्पताल में 59, कामगार अस्पताल में 52, टेऊराम सेंटर में 16, आंबेडकर अभ्यासिका में 131, आयटीआय में 80, सेंट्रल पार्क में 30, सत्यसाई प्लॉटीनम में 32 और शहर के बाहर 35 मरीजों का ईलाज चल रहा है। इनमें से 17 मरीज अभी भी आयसीयु में है, 387 मरीजों में कोरोना के लक्षण कम है वहीं 31 मरीजों में ज्यादा लक्षण बताए गए हैं।
अंबरनाथ। सोमवार को अंबरनाथ शहर पूरी तरह बंद होने के बावजूद कोरोना के 130 मरीज शहर में मिले हैं जिससे शहर में कोरोना ग्रस्त मरीजों की संख्या अब 1269 हो गई है। प्रशासन की लापरवाही के कारण ये सब हो रहा है। कोई अधिकारी अपने सर बढ़ते कोरोना की जिम्मेदारी लेने के लिए तैयार नहीं है। रविवार को पांच मरीजों की मौत हुई थी वहीं सोमवार को दो मरीजों की मौत के साथ शहर में कोरोना से मरने वालों की संख्या अब 31 हो गई है। सोमवार को 224 का स्वेब रिपोर्ट आयी है जिसमें 94 नेगेटिव तो 130 पॉजिटीव आए हैं। शहर पश्चिम से 89 और पूर्व से 41 बाधित मिले हैं। 473 मरीजों का ईलाज अस्पताल में चल रहा है तो 239 होम क्वारटाईन रहकर अपना उपचार करवा रहे हैं। अब तक 531 ने कोरोना को मात देकर घर गए हैं। आज 100 लोगों के स्वेब सेम्पल लिए गए हैं। आज तक 2922 के स्वेब कलेक्शन लिए गए हैं। 283 के रिपोर्ट की प्रतिक्षा है। अंबरनाथ में मरने वालों की संख्या में भी बढ़ोत्तरी होने से लोगों में चिंता की लहर है। 23 जून से लॉकडाऊन शुरू हो रहा है। देखना है कोरोना की चेन कैसे टूटती है। नियोजन शून्य प्रशासन के कारण शहर में कोरोना बाधितों की संख्या 2000 तक पहुंच सकती है।
बदलापुर। बदलापुर में सोमवार को 17 कोरोना ग्रस्त मिले हैं यहां कुल मरीजों की संख्या अब 569 हो गई है। मृतकों की संख्या 13 ही है। इसके मुकाबले में अंबरनाथ में मृतकों की संख्या डर है। सोमवार को 18 नेगेटिव और 17 पॉटिवी रिपोर्ट आयी है। 292 ठीक हुए हैं। 264 एक्टिव मरीज हैं। अंबरनाथ और उल्हासनगर के मुकाबले में बदलापुर नगरपालिका द्वारा सही नियोजन होने के कारण यहां पर कोरोना मरीजों की संख्या कम है। 
कल्याण। कल्याण डोम्बिवली मनपा अंतर्गत सोमवार को भी कोरोना मरीजों का आकड़ा 200 पार हुआ है। सोमवार को कुल 256 कोरोना संक्रमित पाए गए अब तक संक्रमितों की कुल संख्या 3767 मरीज हो चुकी है इनमें 2092 मरीजों का उपचार चल रहा है तो वही 1598 मरीज डिस्चार्ज हो चुके है वहीं इस बीमारी से लगातार लोग मर भी रहे है सोमवार को चार मरीज इस बीमारी के शिकार हो गए जिसके पश्चात मरने वालों की संख्या बढ़कर 77 हो गयी है ।




* उल्हासनगर में 51 नए मरीज, एक्टिव मरीज 400 * कोरोना मुक्त 623 * अब तक 33 की मौत
* अंबरनाथ में 19 नए मरीज, एक्टिव मरीज 593, कोरोना मुक्त 517, अब तक 29 की मौत
* बदलापुर में 25 नए मरीज, एक्टिव मरीज 259, कोरोना मुक्त 280, अब तक 13 की मौत
* कल्याण-डोंबिवली में 254 नए मरीज, एक्टिव मरीज 2040, कोरोना मुक्त 1398, अब तक 73 की मौत
हीरो बोधा-युसूफ शेख

उल्हासनगर। उल्हासनगर शहर में कोरोना ग्रस्त मरीजों का आकड़ा जिस तेजी से बढ़ रहा है उससे पहले लोगों को शक था कि इसमें मनपा प्रशासन का कोई कांड है लेकिन अब पिछले करीब एक माह से जबसे नए आयुक्त आए हैं तबसे मरीजों की संपूर्ण जानकारी छुपाए जाने से और कोरोना की संपूर्ण जानकारी न दिए जाने से महानगरपालिका प्रशासन पूरी तरह संदेह के घेरे में आ गया है कि इसमें बहुत बड़ा झोल हो रहा है। टीओके नेता संतोष पांडे ने कहा है कि कोरोना कांड का वो पर्दाफाश करेंगे। एक तरफ मनपा प्रशासन आरोग्य विभाग व निजी डॉक्टर कोविड-19 का गोरखधंधा शुरू कर लोगों को लूट रहे हैं वहीं लोग इस बीमारी से डरकर चुप चाप अपना ईलाज करवा रहे हैं। यह कोरोना का नहीं डर का कारोबार शहर में चलाए हुए हैं।
उल्हासनगर शहर में रविवार को 51 नए कोरोना के मरीज मिले हैं और तीन कोरोना ग्रस्त मरीजों की मौत हुई है जिसमें उल्हासनगर-4 के आम्रपाली नगर से, उल्हासनगर-5 फिश मार्केट के पास तथा एक अन्य की मौत कोरोना से हुई है। मृतक व्यक्ति का काम करते हैं उनकी क्या उम्र है यह मनपा प्रशासन बताने में असमर्थ है। रविवार तक कोरोना ग्रस्त कुल मरीजों की संख्या 1056 हो गई है जिसमें से 623 कोरोना मुक्त हो चुके हैं और 400 एक्टिव मरीजों का ईलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है। रविवार को 35 मरीज डिस्चार्ज होकर अपने घर लौटे हैं। 20 मरीज आयसीयू में 1, 344 मरीजों में कोरोना के लक्षण कम है तो 36 मरीजों में अधिक। कोविड अस्पताल में 68, कामगार अस्पताल में 55, आंबेडकर अभ्यासिका में 111, आयटीआय में 55, सेंट्र पार्क में 30, सत्य साई प्लॉटीनम में 33, टेऊराम सेंरटर में 16 और उल्हासनगर के बाहरी अस्पतालों में 32 मरीजों का ईलाज चल रहा है।
रविवार को उल्हासनगर-1 से 5 तक इन क्षेत्रों से 51 मरीज मिले हैं:- उल्हासनगर-1 क्षेत्र से 2, कमला नेहरू नगर से 1, डॉल्फीन क्लब-1, बेवस चौक से 1, गोल मैदान से 2, सेंचुरी क्लब के पास-1, उल्हासनगर-2 बालकनजी बारी रोड से 1, झुलेलाल मंदिर के पास से 1, खेमानी परिसर से 4, उल्हासनगर-3 परिसर से 3, आनंद नगर से 9, पंजाबी कॉलोनी परिसर से 2, ओटी सेक्शन से 1, आंबेडकर चौक से 1, शांतिनगर से 1, , उल्हासनगर-4 लाल चक्की से 1, सुभाष टेकड़ी से 1, अम्रपाली से 1 (मृत्यु), कुर्ला कैम्प से 1, सेक्शन 26 से 5, सेक्शन 30 से 2, वीटीसी ग्राऊंड से 1, मराठा सेक्शन से 1, ओटी सेक्शन से 3, उल्हासनगर-5 परिसर से 1, पोस्ट ऑफीस के पास से 1, दूध नाका परिसर से 1, फिश मार्केट के पास से 1(मृत्यु) का समावेश है। जिन क्षेत्रों से यह मरीज मिल रहे हैं उन मरीजों को उठाकर अस्पताल में भर्ती किया जाता है और तुरंत ही इमारत को डैकोरेटर के मार्फत 14 दिनों के लिए सील किया जा रहा है। अब तो इमारत के साथ-साथ इमारत के दुकानों को भी सील किया जा रहा है क्योंकि डैकोरेटर का ज्यादा बिल बनेगा और ज्यादा पैसा ऐंठने को मिलेगा। इस बंदरबांट में कौन-कौन शामिल है इसकी जानकारी जल्द ही साझा की जाएगी।
अंबरनाथ। अंबरनाथ में रविवार को 19 कोरोना के रोगी मिलने से सभों ने राहत की सांस ली है जिससे कुल संख्या अब 1139 हो गई है। एक अच्छी खबर यह है कि 517 मरीजों ने कोरोना को मात दिया है और वह स्वस्थ होकर घर गए हैं। लेकिन साथ ही बुरी खबर यह भी है कि इन 24 घंटों में पांच लोगों के मरीजों की मौत से सभी सकते में हैं। कल तक मृतकों की संख्या 24 थी जो बढ़कर अब 29 हो गई है। शहर में एक ही दिन में कोरोना से पांच की मौत आज तक की ये सबसे ज्यादा मौतें है। शहर के शिवनगर में कोरोना से सबसे ज्यादा मृत्यु हुई है। रविवार को 136 लोगों के स्वेब सेम्पल लिए गए हैं। स्वेब सेम्पल लेने के साथ ही सभों को शहर के महात्मा गांधी विद्यालय में क्वारनटाईन किया जा रहा है। जहां असुविधाओं की भरमार है। गंदा पानी पीने के लिए दिया जा रहा है। आज तक 2807 के स्वेब कलेक्शन किए गए हैं। जिसमें से 1245 नेगेटिव हैं 392 के स्वेब रिपोर्ट की प्रतिक्षा है। अंबरनाथ शहर में बढ़ते कोरोना के मामलों को लेकर प्रशासकीय अधिकारी जगतसिंग गिरासे ने 30 जून तक पूर्ण लॉकडाऊन का प्रस्ताव रखा है। 
बदलापुर। बदलापुर में भी कोरोना फिरसे सर उठा रहा है। रविवार को 25 नए संक्रमित मिले हैं। यहां मरीजों की कुल संख्या 552 हो गई है। रविवार को कोरोना से दो की मृत्यु होने से मृतकों की संख्या अब 13 हो गई है। एक अच्छी खबर यह है कि बदलापुर में 280 मरीज ठीक होकर घर गए हैँ रविवार को 26 के स्वेब टेस्ट के लिए गए हैं। 74 का स्वेब रिपोर्ट की प्रतिक्षा है। अंबरनाथ के मुकाबले में बदलापुर में स्वेब कलेक्शन कम लिए जा रहे हैं। अब तक 1229 के स्वेब लिए गए हैं। रविवार को एक 74 वर्षीय व्यक्ति एवं 28 वर्षीय महिला की कोरोना से मौत हुई है। यहां पर पुलिस कर्मियों को कोरोना संक्रमित पाया गया है।
कल्याण। कल्याण डोम्बिवली मनपा अंतर्गत रविवार को भी आकड़ों में बढ़त पाई गई यहां कुल 254 कोरोना संक्रमित पाए गए हैं अब तक संक्रमितों की कुल संख्या 3511 मरीज हो चुकी है इनमें 2040 मरीजों का उपचार चल रहा है तो वहीं 1398 मरीज डिस्चार्ज हो चुके है। इस बीमारी से लगातार लोग मर भी रहे है, मरने वालों की संख्या बढ़कर 73 हो गयी है।  शहर में लगातार आ रहे इस आंकड़े को लेकर लोग काफी चिंतित हैरान और परेशान नजर आ रहे है यह आंकड़े कैसे थमेंगे और कब तक लोगों को इससे निजात मिलेगी इस तरह के सवाल किया जा रहा है।





* उल्हासनगर में शनिवार को 55 नए मरीज  * एक्टिव मरीज 387 
* कोरोना मुक्त 588 * अब तक 30 कोरोना मरीजों की मौत
* अंबरनाथ में 131 नए मरीज, एक की मौत, एक्टिव मरीज 603, कोरोना मुक्त 493
* बदलापुर में मिले 26 नए मरीज, एक्टिव मरीज 242, कोरोना मुक्त 274
* कल्याण-डोंबिवली में आज मिले 243 मरीज, एक्टिव मरीज 1848
हीरो बोधा-युसूफ शेख

उल्हासनगर। उल्हासनगर शहर में कोरोना ग्रस्त मरीजों का आकड़ा एक हजार पार हो गया है। मार्च-अप्रैल माह में जहां केवल 10 मरीज थे वहां मई-जून में मरीजों की संख्या बढ़कर एक हजार पार हो गई है। इसमें लोगों की बेपरवाही और प्रशासन की लापरवाही का समावेश है। शनिवार को 55 नए कोरोना के मरीज मिलने से शहर में कोरोना के कुल मरीजों का आकड़ा 1005 हो गया है। बुद्धजीवियों का कहना है कि अब शहर के हर इलाके से मिल रहे मरीजों को देखते हुए लॉकडाऊन दोबारा करने पर विचार किया जाना चाहिए। लेकिन कुछ नेता अनलॉक का समय बढ़ाने की बेवकूफी कर रहे हैं। शनिवार को 66 कोरोना मरीज डिस्चार्ज होकर घर गए हैं ऐसे में कुल 588 मरीज कोरोना मुक्त हुए हैं। जिसमें से 387 मरीजों का ईलाज अभी भी विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है। इस बीमारी से शनिवार को एक व्यक्ति की मौत हुई है जिससे मरने वालों का आकड़ा अब 30 तक पहुंच गया है जो चिंता का विषय है।
उल्हासनगर-3 के सबसे बड़े हॉटस्पॉट सम्राट अशोक नगर से कुल 87 बाधित हुए थे जिसमें से कल आखरी के दो मरीज भी कल स्वस्थ होकर वापस आ गए हैं। यह परिसर कोरोना मुक्त हो चुका है। अब कोरोना मरीजों ने झोपड़पट्टी को छोड़कर इमारत में रहने वालों को निशाना बनाया है। उल्हासनगर-1 से 5 तक के करीब हर क्षेत्र के एक ईमारत को सील किया जा रहा है जहां से कोरोना मरीज मिल रहे हैं। उल्हासनगर-3 में सर्वाधिक कोरोना ग्रस्त अब तक पाए गए हैं लेकिन शनिवार को उल्हासनगर-1 परिसर में करीब 20 नए मरीज मिले हैं। हालांकि मनपा ने कैम्प 1 के किन परिसर से यह मरीज मिले है वो नहीं बताया है। इसके अलावा कैम्प 1 के ही बिर्ला मंदिर व मुकुंद नगर परिसर से 1-1 मरीज मिला है। उल्हासनगर -2 बालनजी बारी रोड से 1, आजाद नगर से 2 व दो अन्य क्षेत्र के बताए गए हैं। उल्हासनगर-3 के आनंद नगर से 14 नए मरीज मिले हैं यह हॉटस्पॉट इलाका है यहां पहले भी कई मरीज मिल चुके हैं इसके अलावा सुभाष नगर से 2, राहुल नगर से 1, उल्हासनगर-4 के कुर्ला कैम्प से 2, सेक्शन 29 से 2, सेक्शन 30 से 1, ओटी सेक्शन से 3 उल्हासनगर-5 के कैलाश कॉलोनी, तानाजी नगर व पटेल नगर से 1-1 मरीज मिला है। इस तरह कुल 55 नए मरीज मिले हैं। कोविड अस्पताल में 58 मरीज भर्ती हैं साथ ही कामगार अस्पताल में 45, टेऊराम सेंटर में 16, आंबेडकर केंद्र में 130, आयटीआय में 61, सेंट्रल पार्क में 23, सत्य साईं प्लेटेनियम में 25 व 28 मरीज शहर के बाहर अपना ईलाज करवा रहे हैं। 19 मरीज आयसीयु में है 331 मरीजों में कोरोना के लक्षण कम है जबकि 37 मरीजों में अधिक बताए गए हैं। उल्हासनगर-3 स्थित रीजेंसी प्लॉजा के स्कॉय हाल में उल्हासनगर मनपा को डेडिकेड अस्पताल सत्य साई प्लेटेनियम द्वारा भारी लुटमार शुरू हो गई है। इस अस्पताल में 5 स्टार रक्कम वसूल की जा रही है। एडवांस बुकिंग के नाम पर यहां पर गोरख धंधा शुरू हो गया है। इसकी विस्तृत जानकारी हम अगले अंक में देंगे। इस गोरख धंधे में डॉक्टरों की एक टीम के साथ कुछ नगरसेवकों भी दलाली का काम कर रहे हैं। जबकि महात्मा फुले आरोग्य योजाना के तहत मुफ्त ईलाज का वादा पालक मंत्री श्री शिंदे ने किया है।
अंबरनाथ शनिवार को अंबरनाथ में कोरोना बम फटने से अब तक सबसे ज्यादा 131 कोरोना बाधितों के मिलने से पूरे शहर में हड़कंप मच गया है। कुल संख्या यहां 1120 हो गई है। एक ही दिन में 24 घंटे के भीतर एक बड़ी मुसीबत शहर में आ गई है। अंबरनाथ शहर अब धारावी बनता जा रहा है। शहर में चर्चा हो रही है कि एक हफ्ते का पूरा लॉकडाऊन होना चाहिए ताकि कोरोना की चेन को तोड़ा जा सके। शहर के हालात बहुत बिगड़ते जा रहे हैं। मरीजों की कुल संख्या अब एक हजार से ज्यादा 1120 हो गई है। हम बार-बार ये लिख रहे हैं कि कोरोना के फैलाव को रोकने के लिए सबों को सर जोड़कर बैठना होगा। प्रसासन के भरोसे पर अब नहीं चलने वाला। शहर के वरिष्ठ नेताओं, पत्रकारों, व्यापारियों, बुद्धजीवियों एवं प्रशासन को एक बैठक का आयोजन करके उपाय योजना करना होगा। वरना अंबरनाथ के हर घर में कोरोना अपना भयंकर रंग दिखाएगा। जब तक बहुत देर हो चुकी होगी। भिवंडी ही की तरह अंबरनाथ में भी लॉकडाऊन करने की जरूरत है तीन लाख की जनसंख्या वाले शहर में 24 घंटे के भीतर 131 कोरोना संक्रमित का प्राप्त होना ये गहरी चिंता का विषय है। कोरोना से मृत्यु की संख्या भी बढ़ रही है। अंबरनाथ में आज तक 24 हो गई है। 24 घंटे में एक और व्यक्ति की मौत हुई है। अंबरनाथ में एक ही दिन में 131 कोरोना मरीजों की मिलते पर शिवसेना प्रमुख अरविंद वालेकर ने देर रात गए शासन से ये मांग की है कि शहर को दस दिनों के लिए बंद करके घर घर में जाकर कोरोना की जांच की जाए। अंबरनाथ ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष प्रदीप पाटील ने भी 15 दिन शहर में कड़क लॉकडाऊन करने की मांग की है। 
बदलापुर में शनिवार को 26 बाधित मिले हैं। यहां मरीजों की कुल संख्या 527 हो गई है। यहां पर 11 लोगों की मौत हुई है। यहां पर 242 एक्टिव मरीज हैं। 274 मरीज ठीक होकर घर गए हैँ।
कल्याण। कल्याण डोम्बिवली मनपा अंतर्गत शनिवार को भी आकड़ों में बढ़त पाई गई यहां कुल 243 कोरोना संक्रमित पाए गए हैं अब तक संक्रमितों की कुल संख्या 3257 मरीज हो चुकी है इनमें 1848 मरीजों का उपचार चल रहा है तो वहीं 1338 मरीज डिस्चार्ज हो चुके है। इस बीमारी से लगातार लोग मर भी रहे है शनिवार को और दो मरीज इस बीमारी के शिकार हो गए जिसके पश्चात मरने वालों की संख्या बढ़कर 71 हो गयी है।  शहर में लगातार आ रहे इस आंकड़े को लेकर लोग काफी चिंतित हैरान और परेशान नजर आ रहे है यह आंकड़े कैसे थमेंगे और कब तक लोगों को इससे निजात मिलेगी इस तरह के सवाल किया जा रहा है।


Author Name

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.