"उल्हास विकास" ठाणे जिले का पहला हिन्दी न्यूज एंड्रॉयड मोबाइल ऐप बना
Click on the Image to Download the App from Google Play Store

andriod app

राज्यों को मिली नाइट कर्फ्यू लगाने की छूट, उल्हासनगर में नए मरीज 19, एक्टिव 219, अंबरनाथ में नए मरीज 28, एक्टिव 166

🔺 उल्हासनगर में नए मरीज 19एक्टिव मरीज 219

कोरोना मुक्त 10,115, मृत्यु 354, कुल संख्या 10,688

🔺 अंबरनाथ में नए मरीज 28, एक्टिव मरीज 166
कोरोना मुक्त 7340मृत्यु 285, कुल संख्या 7791

🔺 बदलापुर में नए मरीज 43एक्टिव मरीज 192
कोरोना मुक्त 7610, मृत्यु 98, कुल संख्या 7900

🔺कल्याण-डोंबिवली में नए मरीज 204, एक्टिव 1428
कोरोना मुक्त 50,697, मृत्यु 1050, कुल संख्या 53,175
युसूफ शेख / हीरो बोधा

लॉकडाउन के लिए केंद्र की मंजूरी अनिवार्य

मुंबई। देश के विभिन्न हिस्सों में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को गंभीरता से लेते हुए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से संबंधित दिशानिदेर्शों और एहतियाती उपायों तथा मानक संचालन प्रक्रियाओं को सख्ती से लागू करने को कहा है। मंत्रालय ने बुधवार को एक आदेश जारी कर कोविड संक्रमण पर अंकुश लगाने के लिए निगरानी, उपाय और सतर्कता से संबंधित दिशा निर्देश भी जारी किए जो आगामी एक दिसंबर से लागू होंगे। मंत्रालय ने सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से इन दिशानिर्देशों को पूरी सख्ती से लागू करने को कहा है। इस बार सरकार का ज्यादा फोकस भीड़ को नियंत्रित करने की है। सरकार के यह दिशा-निर्देश 1 दिसंबर से प्रभावी होंगे और 31 दिसंबर तक लागू रहेंगे। गृह मंत्रालय ने कहा कि दिशा-निर्देशों का मुख्य फोकस कोविड -19 के प्रसार के खिलाफ हासिल किए गए कंट्रोल को बनाए रखना है, जो देश में सक्रिय मामलों की संख्या में लगातार गिरावट से दिखाई दे रहा है।

कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने सख्ती बढ़ा दी है। नए नियमों के अनुसार दिल्ली, गुजरात, राजस्थान और गोवा से मुंबई पहुंचने वाले लोगों के पास कोरोना टेस्ट की निगेटिव रिपोर्ट होना अनिवार्य है। रिपोर्ट न होने की स्थिति में सभी का कोरोना टेस्ट किया जाएगा। 

बुधवार की सुबह से ही दादर रेलवे स्टेशन मुंबई में यात्रियों का कोरोना टेस्ट किया जा रहा है। RT-PCR टेस्ट निगेटिव आने पर ही उन्हें घर जाने की अनुमति दी जा रही है। दो दिन पहले महाराष्ट्र सरकार ने अपनी नई गाइडलाइन में कहा था कि 25 नवंबर से बिना कोरोना टेस्ट अनिवार्य होगा। हवाई यात्रा से मुंबई पहुंचने वाले लोगों को 72 घंटे पहले कोरोना टेस्ट करवानी होगी और रिपोर्ट बोर्डिंग पर जमा करना होगा। वहीं रेल यात्रियों के लिए 96 घंटे पहले की रिपोर्ट चाहिए। अगर ऐसा नहीं होता है तो उनका RT-PCR टेस्ट होगा।  इससे पहले मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने भी लोगों को नियमों के पालन करने का अनुरोध किया था। हालांकि राज्य सरकार धीरे-धीरे धील दे रही है।

राज्यों को रात के कर्फ्यू सहित स्थानीय प्रतिबंध लगाने की छूट

नए दिशा-निर्देशों के अनुसार, जो 1 दिसंबर से लागू होंगे। राज्यों को नाइट कर्फ्यू सहित स्थानीय प्रतिबंध लगाने का अधिकार दिया गया है। यह दिशा-निर्देश 31 दिसंबर तक लागू रहेंगे। गृह मंत्रालय का ओर से एक प्रेस रिलीज में कहा गया है कि राज्य और केंद्र शासित प्रदेश राज्य की परिस्थिति के आकलन के आधार पर कोविड-19 को रोकने के संदर्भ में स्थानीय प्रतिबंधों को लागू कर सकती है, जिसमें नाइट कर्फ्यू शामिल हैं। हालांकि, राज्य और केंद्रशासित प्रदेश केंद्र सरकार के परामर्श के बिना कंटेनमेंट जोन के अलावा स्थानीय क्षेत्रों में लॉकडाउन नहीं कर सकते हैं। गृह मंत्रालय ने यह भी कहा है कि स्थानीय जिला, पुलिस और नगर निगम के अधिकारी यह सुनिश्चित करने के लिए जिम्मेदार होंगे कि निर्धारित रोकथाम उपायों का कड़ाई से पालन किया जाए।

दिशा निर्देशों में इस बात पर जोर दिया गया है कि कोरोना के खिलाफ अभियान में अब तक देश ने जो सफलता हासिल की है उसे बरकरार रखते हुए इसे और मजबूत बनाने के लिए कदम उठाए जाएं। इनमें जोर देकर कहा गया है कि कंटेनमेंट जोन में सभी दिशानिदेर्शों को पूरी तरह से लागू किया जाए और वहां केवल अनिवार्य सेवाओं की गतिविधि की ही अनुमति दी जानी चाहिए। 

कंटेनमेंट जोन के बाहर जाने और उनमें अंदर आने पर भी पूरी तरह से रोक लगाने को कहा गया है। भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में भी विशेष एहतियात बरतने को कहा गया है। राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा गया है कि वे त्योहारों और सदीर् के मौसम को देखते हुए विशेष सावधानी बरतें तथा जिला, स्थानीय प्रशासन, नगर निगम और पुलिस को गृह मंत्रालय तथा केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के दिशानिर्देशों और मानक संचालन प्रक्रिया को लागू करने के प्रति जवाबदेह बनाए। साथ ही अधिकारियों की जवाबदेही सुनिश्चित करने के लिए भी कहा गया है। दिशानिर्देशों में राज्य सरकारों से सामाजिक और धार्मिक समारोह में शामिल होने वाले लोगों की संख्या सौ तक सीमित रखने और जरूरत पड़ने पर इससे भी कम करने को कहा गया है। 

जून में हुई थी अनलॉक 1.0 की घोषणा

सरकार ने सबसे पहले मार्च में कोरोना वायरस माहमारी के प्रसार को रोकने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन लगाया था। जब संक्रमण अपने चरम पर था। इसके बाद जून में अनलॉक 1.0 की घोषणा की गई थी, जिसके कारण रेस्तरां, शॉपिंग मॉल आदि खुल गए थे, तब से सरकार अर्थव्यवस्था को धीरे-धीरे में खोल रही है।लेकिन हाल ही में विभिन्न शहरों में नए कोविड -19 मामलों की संख्या में वृद्धि के साथ, महामारी के दोबारा फैलने की आशंका है। विशेषज्ञों ने यह भी चेतावनी दी है कि सर्दियों में स्थिति खराब हो सकती है। इसलिए, सरकार ने लोगों से कोवि़ -19 प्रोटोकॉल का पालन करने का आग्रह किया है।

क्या है फिलहाल भारत में कोरोना की स्थिति?

भारत में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के 44,376 नए मामले सामने आए जिसके बाद कुल मामले बढ़कर 92 लाख के पार पहुंच गए। इसके साथ ही ठीक होने वाले मरीजों की संख्या बढ़कर 86.42 हो गई। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को यह जानकारी दी। मंत्रालय की ओर से सुबह आठ बजे उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के अनुसार देश में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 92,22,216 हो गए। आंकड़ों के अनुसार कोविड-19 से 481 और मरीजों की मौत हो गई जिसके बाद मृतकों की संख्या 1,34,699 पर पहुंच गई। वर्तमान में देश में कोविड-19 के 4,44,746 मरीज उपचाराधीन हैं। यह संख्या मंगलवार के मुकाबले 6,079 अधिक है। आंकड़ों के मुताबिक उपचाराधीन मरीजों की संख्या लगातार पंद्रहवें दिन पांच लाख से कम रही। यह संक्रमण के कुल मामलों का 4.82 प्रतिशत है। 

उल्हासनगर में आज 31 हुए डिस्चार्ज
उल्हासनगर। उल्हासनगर महानगरपालिका क्षेत्र में आज केवल 19 नए पाॅजिटीव मरीज मिलने से कोरोना ग्रस्त मरीजों की कुल संख्या अब 10,688 हो गई है। मृतकों की संख्या 354 हो गई है। आज 31 मरीज डिस्चार्ज किए गए हैं जिससे कोरोना मुक्त मरीजों की संख्या 10,115 हो गई है। रिकवरी प्रतिशत 94.64 बताया गया है। वहीं 219 एक्टिव मरीजों का ईलाज शहर के बाहर के अस्पतालों में 55, होम आयसोलेशन में 46 व अन्य मरीजों का ईलाज निजी व सरकारी अस्पतालों में चल रहा है। सरकार द्वारा आने वाले दिनों में लाॅकडाऊन के कोई आसार नहीं है इसलिए अफवाहों पर ध्यान न दें। फिलहाल लाॅकडाऊन नहीं लगेगा।
अंबरनाथ में अब तक 7340 कोरोना मुक्त
अंबरनाथ। अंबरनाथ नपा क्षेत्र में आज 28 नए कोरोना रोगी मिले हैं। जिससे कोरोना ग्रस्त मरीजों की कुल संख्या 7791 हो गई है। आज शहर पूर्व में 15 और पश्चिम में 13 रोगी मिले हैं। 94.21 प्रतिशत के साथ आज तक 7340 मरीज स्वस्थ होकर घर गए हैं। 2.13 प्रतिशत के साथ एक्टिव रोगी अब 166 हैं। 3.65 प्रतिशत के साथ मृतकों की कुल संख्या 285 हो गई है। अंनपा संचालित डेंटल कोविड अस्पताल में 24 मरीज अपना उपचार करा रहे हैं। शहर में कोविड 19 टेस्ट करने वालों की संख्या 31,992 पहुंच गई है। आज 142 लोगों ने टेस्ट कराया है जिसमें 115 नेगेटिव और 28 पाॅजिटीव हैं। 
बदलापुर में आज 43 नए पाॅजिटीव
बदलापुर। कुलगांव-बदलापुर नगरपरिषद क्षेत्र में आज 43 नए पाॅजिटीव मरीज मिले हैं जिससे कोरोना ग्रस्त मरीजों की कुल संख्या अब 7900 हो गई है। यहां पर मृतकों का 1.24 प्रतिशत के साथ मरने वालों की संख्या 98 ही है। यहां पर 96.32 प्रतिशत मरीज ठीक हुए हैं 7610 मरीज कोरोना मुक्त अब तक हो चुके हैं। 2.43 प्रतिशत के साथ एक्टिव मरीजों की कुल संख्या अब 192 है। जिनका ईलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है। अब तक 12,490 लोगों का स्वेब टेस्ट हुआ है। आज कोरोना की रिपोर्ट में 50 नेगेटिव और 43 पाॅजिटीव पाए गए हैं। यह जानकारी हमें नपा के श्री सुनील मकाजी ने दी है।
कल्याण-डोंबिवली क्षेत्र में आज मिले 204 पाॅजिटीव
कल्याण। कल्याण डोम्बिवली महानगरपालिका में आज कुल 204 कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि की गई जिसके साथ ही कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 53,175 तक जा पहुची है इनमें 1428 मरीजों का उपचार चल रहा है तो वहीं 50,697 मरीज डिस्चार्ज हो चुके है, आज 3 मरीजों की मौत के बाद मरने वालों की संख्या 1050 तक पहुंच गई है। 86 मरीज पिछले 24 घंटे के भीतर विभिन्न अस्पतालों से डिसचार्ज भी हुए है। मनपा क्षेत्र के कल्याण पूर्व में 32, कल्याण पश्चिम में 60, डोंबिवली पूर्व में 60, डोंबिवली पश्चिम में 34, मांडा टिटवाला में 6, पिसवली में 1 तथा मोहना में 7 नए मरीज कोरोना संक्रमित पाये गये है।
Download Ulhasnagar Municipal 
[blogger]

Author Name

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.