"उल्हास विकास" ठाणे जिले का पहला हिन्दी न्यूज एंड्रॉयड मोबाइल ऐप बना
Click on the Image to Download the App from Google Play Store

andriod app

डैम में दरार से अंबरनाथ-उल्हासनगर के लिए खतरे की घंटी, उल्हासनगर में नए मरीज 24, एक्टिव 303, अंबरनाथ में 18 नए पाॅजिटीव, एक्टिव 285

🔺 उल्हासनगर में नए मरीज 24एक्टिव मरीज 303
कोरोना मुक्त 6956, मृत्यु 190कुल संख्या 7433

🔺 अंबरनाथ में नए मरीज 18एक्टिव मरीज 285
कोरोना मुक्त 4060मृत्यु 175, कुल संख्या 4520

🔺 बदलापुर में नए मरीज 55, एक्टिव मरीज 291
कोरोना मुक्त 3131, मृत्यु 62, कुल संख्या 3484

🔺कल्याण-डोंबिवली में नए मरीज 200एक्टिव 3267
कोरोना मुक्त 21,092, मृत्यु 511, कुल संख्या 24,870
युसूफ शेख । हीरो बोधा

अंबरनाथ जीआयपी डैम की संरक्षण दीवार में दरारें
अंबरनाथ। अंबरनाथ पूर्व में काकोले गांव के जीआयपी तालाब(डैम) की संरक्षण दीवार को गत कई वर्षों से दरारें हो गई हैं। इस वर्ष भी इन दरारों मे से डैम का पानी पूरी रफ्तार से बाहर निकल रहा है। इसलिए फिर एक बार ये आवाज उठ रही है कि अगर ये दीवार टूट गई तो अंबरनाथ, उल्हासनगर, कल्याण और आस पास के कई गांव के लाखों लोगों का भारी नुकसान हो सकता है कई जानें भी जा सकती हैं। विदित हो कि ये डैम ब्रिटिश कालीन है। 150 वर्ष पूर्व रेलवे को जलापूर्ति करने के लिए इस डैम का निर्माण किया गया था। कुछ वर्षों पूर्व रेलवे ने डैम के पानी से रेलनीर बोतल बंद पानी का निर्माण करना शुरू किया। गत वर्ष भी राकांपा अध्यक्ष सदा पाटील ने आवाज उठाया था कि डैम की दीवारों में दरारें पड़ गई है। जुलाई 2019 में ओवर फ्लो दीवार का कुछ भाग टूटने से इस डैम से लाखों लीटर पानी आस पास के खेतों में भरने से किसानों का नुकसान हुा था। किसानों को नुकसान भरपाई भी दी गई थी। गत वर्ष पालक मंत्री एकनाथ शिंदे, सांसद श्रीकांत शिंदे, विधायक किणीकर ने डैम क्षेत्र का दौरा करके दीवार दुरुस्ती का कार्य करके संरक्षण भिंत का निर्माण करने का आश्वासन दिया था लेकिन अब तक इस ओर ध्यान ना देने के कारण फिर से ये डैम अंबरनाथ, उल्हासनगर के लिए खतरे की घंटी बन गया है। निसर्ग मित्रों ने भी आवाज उठाया है। कल्याण ग्रामीण के विधायक राजू पाटील ने ट्वीट करके इस गंभीर विषय पर प्रशासन को ध्यान देने की अपील की है। सामाजिक कार्यकर्ता नरेश गायकर ने तहसीलदार से लेकर रेल मंत्री व प्रधानमंत्री को पत्र भी लिखा है।
उल्हासनगर में आज 35 हुए डिस्चार्ज, 5 की मौत
उल्हासनगर। उल्हासनगर महानगरपालिका क्षेत्र में आज 93.58 प्रतिशत रिकवरी रेट के साथ अब कोरोना के केवल 287 एक्टिव मरीज ही रह गए हैं। जिसमें से 66 मरीजों का ईलाज शहर के बाहर के अस्पतालों में चल रहा है वहीं 42 होम आयसोलेशन में तो निजी व सरकारी अस्पताल तथा कोविड सेंटर में 179 मरीजों का ईलाज चल रहा है। आज मंगलवार को कोरोना से पांच मरीजों की मौत के बाद मरने वालों की कुल संख्या अब 190 हो गई है। आज 35 मरीजों के डिस्चार्ज होते ही कोरोना मुक्त मरीजों की संख्या अब 6956 हो गई है। मंगलवार को 24 नए पाॅजिटीव मरीजों के मिलते ही कोरोना ग्रस्त मरीजों की कुल संख्या अब 7433 हो गई है। शहर में पी1-पी-2 के खत्म होने पर आज बाजारों में भारी भीड़ देखी गई। सड़कों पर ट्रैफिक जाम देखा गया लेकिन सड़कों पर पड़े छोटे बड़े खड्ढों से दुपहिया वाहन चालक गिरते हुए भी देखे गए। शहर में गणेशोत्सव की तैयारी शुरू हो गई है। वहीं उल्हासनगर-4 कोविड अस्पताल का मुख्य बाजार का रास्ता जो 4 माह से बंद पड़ा हुआ था उसे स्थानीय व्यापारी अध्यक्ष जगदीश तेजवानी के प्रयास से खोल दिया गया है जिससे व्यापारियों में खुशी का माहौल है।
अंबरनाथ में अब तक कोरोना मुक्त 4060
अंबरनाथ। अंबरनाथ में कोरोना बाधितों की संख्या कम होती जा रही है मंगलवार को 18 नए रोगी मिले हैं। अब तक कुल कोरोना के मरीजों की संख्या 4520 हो गई है। शहर पश्चिम में केवल 8 मरीज मिले हैं तो पूर्व से 10 कोरोना संक्रमित पाए गए हैं, लेकिन कोरोना से मौत का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है। 24 घंटे के भीतर 1 की मौत हुई है, मृतकों की कुल संख्या 175 हो गई है। मरने वालों का प्रतिशत 3.87 हो गया है। जोकि बहुत ज्यादा है। प्रशासन को इस ओर ध्यान देकर मौत के आंकड़ों को कम करने के लिए उपाय योजना करना होगा और मृतकों का प्रतिशत 2 प्रतिशत तक लाना होगा। ठीक होकर घर जाने वालों का प्रतिशत अच्छा है जिसमें 89.82 प्रतिशत के साथ अब तक 4060 कोरोना मुक्त हुए हैं। एक्टिव मरीज 285 हैं, एक्टिव मरीजों का प्रतिशत 6.30 है। अंबरनाथ नपा संचालित डेंटल अस्पताल में 100 से भी कम मरीज यानी केवल 72 मरीज उपचार ले रहे हैं। अब तक 11533 ने कोरोना टेस्ट कराया है। 63 के रिपोर्ट की प्रतिक्षा है। आज 185 की रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमें 167 नेगेटिव तो 18 पाॅजिटीव है।
बदलापुर में आज 56 नए पाॅजिटीव
बदलापुर। कुलगांव-बदलापुर नगरपारिषद क्षेत्र में मंगलवार को 56 नए पाॅजिटीव मरीज मिले हैं जिससे कोरोना ग्रस्त मरीजों की कुल संख्या अब 3540 हो गई है। यहां पर मृतकों का 1.75 प्रतिशत के साथ कुल मरने वालों की संख्या 62 है। यहां पर 89.94 प्रतिशत मरीज ठीक हुए हैं 3183 मरीज कोरोना मुक्त अब तक हो चुके हैं। 8.33 प्रतिशत के साथ एक्टिव मरीजों की कुल संख्या अब केवल 295 रह गई है। जिनका ईलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है। अब तक 5427 लोगों का स्वेब टेस्ट हुआ है। आज 66 स्वेब की रिपोर्ट में 10 नेगेटिव और 56 पाॅजिटीव पाए गए हैं।
कल्याण-डोंबिवली क्षेत्र में भी पी-1 व पी-2 
रद्द, 19 अगस्त से खुलेंगी सभी दुकानें
कल्याण। कल्याण डोम्बिवली महानगरपालिका में मंगलवार को कुल 200 कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि की गई जिसके साथ ही कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 24,870 तक जा पहुची है इनमें 3267 मरीजों का उपचार चल रहा है तो वही 21,092 मरीज डिस्चार्ज हो चुके है वही आज 8 लोगों की मौत हो गयी इस आंकड़े के बाद मरने वालों की संख्या बढ़कर 511हो गयी है 456 मरीज पिछले 24 घंटे के भीतर विभिन्न अस्पतालों व कोरंटाइन सेंटर से डिसचार्ज भी हुए है। मनपा क्षेत्र के कल्याण पूर्व में 32, कल्याण पश्चिम में 36, डोंबिवली पूर्व में 68, डोंबिवली पश्चिम में 41, मांडा टिटवाला में 21, पिसवली में 1 तथा मोहना में 1 नया मरीज कोरोना संक्रमित पाया गया है।
उल्हासनगर की तर्ज पर कल्याण-डोंबिवली मनपा क्षेत्र में कल मनपा आयुक्त ने आदेश जारी करते हुए पी-1 व पी-2 रद्द कर दिया है। अब यहां पर 19 अगस्त की सुबह 9 से शाम 7 बजे तक दोनों तरफा दुकानें खोली जाएंगी। यहां के दुकानदारों को भी बड़ी राहत मिली है अब गणेशोत्सव की तैयारियां जोरों पर चलेगी।
उल्हासनगर निवासी वरिष्ठ पुलिस 
निरीक्षक सुर्यकांत बांगर को राष्ट्रपति पदक
उल्हासनगर। उल्हासनगर शहर से ही अपनी शिक्षा प्राप्त करने वाले वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक श्री सुर्यकांत बांगर को राष्ट्रपति पदक से नवाजा गया है। श्री बांगर फिलहाल मुंबई के डीबी मार्ग पुलिस स्टेशन में वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक के पद पर तैनात हैं। ज्ञात हो कि 15 अगस्त से पूर्व सरकार ने महाराष्ट्र राज्य के 58 पुलिस अधिकारियों को उनके उत्कृष्ट कार्यों को देखते हुए उन्हें राष्ट्रपति पदक देने की घोषणा की है। जिनमें उल्हासनगर में पले बड़े वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक श्री सुर्यकांत बांगर का नाम भी शामिल है।
ज्ञात हो कि श्री सुर्यकांत बांगर उल्हासनगर शहर में ही पले बड़े हुए और उनकी पढ़ाई स्कूल सरस्वती विद्या मंदिर और काॅलेज आर.के.टी. काॅलेज में हुई। ग्रैजुएशन के बाद पुलिस फोर्स में पुलिस उपनिरीक्षक के तौर पर शामिल हुए और धीरे-धीरे कर आगे बढ़ते हुए पुलिस फोर्स में अच्छे कार्यों को देखते हुए उनकी पदोन्नती वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक के तौर पर की गई। उल्हासनगर के मध्यवर्ती पुलिस थाने, अपराध शाखा में भी कार्य कर चुके हैं और अब मुंबई के डीबी मार्ग पुलिस स्टेशन में वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक के पद पर तैनात हैं। बता दें कि श्री बांगर को 400 से अधिक अवार्ड मिल चुके हैं। 2013 में पुलिस महानिदेशक(डीजी) द्वारा बेस्ट डिटेक्शन अवार्ड भी उन्हें मिल चुका है। 2016 में पुलिस महानिदेशक डीजी इंनसेग्यनिया भी मिला है। उल्हासनगर शहरवासियों ने श्री बांगर को बधाई देते हुए कहा है कि उन्होंने शहर का गर्व बढ़ाया है। इनके अलावा अंबरनाथ पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक संजय धुमाल तथा सिंधुदुर्ग पुलिस थाने के अपराध शाखा के व.पु.नि. श्री सुनील धनावडे जिन्होंने उल्हासनगर में भी कई वर्षों तक अपनी सेवाएं दी थी उनको भी राष्ट्रपति पदक मिला है।
Download Ulhasnagar Municipal 
[blogger]

Author Name

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.