"उल्हास विकास" ठाणे जिले का पहला हिन्दी न्यूज एंड्रॉयड मोबाइल ऐप बना
Click on the Image to Download the App from Google Play Store

andriod app

ठाणे जिला के व्यापारियों ने दिया मुख्यमंत्री को पत्र कहा सभी दुकानें खोले, उल्हासनगर में नए मरीज 19, एक्टिव 383, अंबरनाथ में नए मरीज 29, एक्टिव 318

🔺 उल्हासनगर में नए मरीज 19एक्टिव मरीज 383
कोरोना मुक्त 6641, मृत्यु 161कुल संख्या 7185

🔺 अंबरनाथ में नए मरीज 29एक्टिव मरीज 318
कोरोना मुक्त 3828मृत्यु 166, कुल संख्या 4314

🔺 बदलापुर में नए मरीज 30, एक्टिव मरीज 327
कोरोना मुक्त 2777, मृत्यु 54, कुल संख्या 3158

🔺कल्याण-डोंबिवली में नए मरीज 196एक्टिव 4062
कोरोना मुक्त 18,329, मृत्यु 458, कुल संख्या 22,849
युसूफ शेख । हीरो बोधा
हजारों व्यापारी करेंगे आंदोलन
अंबरनाथ। ठाणे जिला के अंबरनाथ, उल्हासनगर, बदलापुर, कल्याण-डोंबिवली एवं ठाणे के व्यापारी संगठनाओं के पदाधिकारियों की एक बैठक का आयोजन डोंबिवली में 8 अगस्त को हुआ। जिसमें लाॅकडाऊन में हो रही व्यापारियों की परेशानियों पर चर्चा हुई और इस बैठक में जो पांच खास मुद्दे तय किए गए हैं। इन मुद्दों को लेकर एक मांग भरा निवेदन पत्र मुख्यमंत्री महाराष्ट्र, ठाणे जिलाधिकारी एवं स्थानिक प्रशासन को रवाना किया गया है। यह पांच मांगें हैं जिनमें पी 1 व पी 2 को खत्म करके सभी दुकानें शुरु करने की घोषणा जल्द से जल्द किया जाए। लाॅकडाऊन के दरम्यान जिन व्यापारियों पर पुलिस एवं नपा प्रशासन ने केस किए हैं वह तुरंत वापस लिए जाए। जिन व्यापारियों ने बिमा किया है उनको सरकार ने बिना कंपनियों से आर्थिक सहायता करके दें। व्यापारियों की दुकानें अन्य शहरों में हैं इन व्यापारियों को लोकल ट्रेनों में सफर करने की अनुमति दी जाए। एक वर्ष का दुकानों का मालमत्ता कर रद्द किया जाए। 14 अगस्त तक अगर कोई निर्णय नहीं लिया गया तो ठाणे जिला के हजारों व्यापारी आंदोलन छेड़ देंगे। मुंबई और पुणे में कोरोना के ज्यादा रोगी होने के बावजूद यहां पर अनलाॅन की प्रक्रिया अपनाते हुए सभी दुकानें सुबह 9 से रात तक शुरू हैं उसी प्रकार ठाणे जिले में भी व्यापार शुरू करने की मांग की गई है। मुख्यमंत्री एवं प्रशासन को दिए गए पत्र में अंबरनाथ व्यापारी संघ अध्यक्ष खानजी धल व उपाध्यक्ष युसूफ शेख के हस्ताक्षर हैं।
दही हंडी का त्यौहार भी इस वर्ष फीका होगा
अंबरनाथ। अंबरनाथ में किसी भी गोविंदा दही हांडी पथक को हंडी फोड़ने की अनुमति नहीं दी गई है। वैसे भी सभी पथकों ने एवं शहर के बड़े मंडलों ने पहले से ही ये तय कर लिया था कि वह इस वर्ष श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर गोपाल काला ना मा मनाते हुए केवल पूजा अर्चना करेंगे। कोरोना महामारी को देखते हुए इस वर्ष सभी धर्म के त्यौहारों को मनाने की अनुमति नहीं दी गई है। गणेशोत्सव मंडलों से भी कहा गया है कि वह इस वर्ष केवल ढाई दिन का गणेशोत्सव मनाए। कहीं पर भी मंडप, डेकोरेशन, झांकी का कार्य नहीं हो रहा है। रक्षाबंधन का त्यौहार भी फिका-फिका रहा है। गणेशोत्सव के साथ ही इस वर्ष शहर में मोहर्रम के ताजीये भी बिठाए जाएं या ना बिठाए जाएं। इस मुद्दे को लेकर शासन की तरफ से कोई आदेश जारी नहीं हुआ है। इसलिए ताजिए बिठाने वाले मंडल के पदाधिकारी असमंजस में हैं। पुलिस विभाग की ओर से अभी तक किसी बैठक का आयोजन नहीं हुआ है। विदित हो कि 21 अगस्त से मोहर्रम शुरू हो रहा है। शहर पूर्व में कई जगहों पर ताजीये बिठाए जाते हैं और कुछ मोहर्रम कमेटीवाले 10 दिन तक पानी के मटके रखते हैं और दसवें दिन शरबत वितरित किया जाता है।
विधानसभा में उठाया जाएगा करोड़ों के
कोरोना घोटाले
का मामला- महेश सुखरामानी
उल्हासनगर। उल्हासनगर मनपा अधिकारियों और सत्तापक्ष की मिलीभगत से कुल 17 करोड़ का टेंडर कोरोना कोविड-19 के नाम पर इलाज के लिए दिया जा रहा है जिन लोगों को यह टेंडर दिया जा रहा है वह व्यक्ति और मनपा अधिकारियों के साथ में सत्तापक्ष शामिल होकर करोड़ो रुपए का भ्रष्टाचार कर रही है । इस बारे में भाजपा नगरसेवक महेश सुखरामानी द्वारा सनसनीखेज खुलासा किया गया है की कोरोना मरीजों के नाम पर जो 17 करोड़ का टेंडर निकाला गया है उसमें  सिर्फ 8 से 9 करोड़ रुपए के बीच   ही आज का बाजार भाव है और इन 17 करोड़ के टेंडर में चार टेंडर निकले गए है जिनमें हर समान का भाव बढ़ा कर बताया गया है जो सिर्फ भ्रष्टाचार करने का एक तरीका है और उल्हासनगर मनपा को लूट कर यह भ्रष्टाचारी मनपा की तिजोरी खाली करने का काम किया गया है जबकि उल्हासनगर के अंदर अब सिर्फ 500 मरीज ही एक्टिव कोविड 19 के पेशेंट है इस में भाजपा नेता महेश सुखरामनी ने ठाणे जिला अधिकारी, उल्हासनगर मनपा आयुक्त, मनपा आरोग्य विभाग और महाराष्ट्र विधानसभा विरोधी पक्ष नेता देवेंद्र फडणवीस से लिखित रूप से शिकायत की है और इस मामले की छानबीन करके मामले को उजागर करने के लिए कहां है जिससे कोरोना के नाम पर करोड़ों रुपए का भ्रष्टाचार ना होने पाए। महेश सुखरामानी ने उल्हासनगर मनपा आयुक्त डॉ. राजा दयानिधि से अनुरोध किया है कि इस 17 करोड़ के टेंडर को जल्द रोका जाए और इसके ऊपर  जांच बैठाई जाए  और दोषी मनपा अधिकारियों और सत्तापक्ष के लोगों पर कारवाई की जाए। भाजपा नेता महेश सुखरामानी ने कहा कि जल्द ही इस मामले को लेकर सभी पत्रकारों के समक्ष एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की जाएगी और उस प्रेस कॉन्फ्रेंस में सभी सबूतों के साथ में यह मामला पत्रकारों के समक्ष रखा जाएगा और करोड़ों रुपए के हुए भ्रष्टाचार की सबूतों के साथ में पोल खोली जाएगी इस मामले को विधानसभा विरोधी पक्ष नेता देवेंद्र फडणवीस द्वारा विधानसभा में उठाया जाएगा और इस कोरोना के नाम पर महा घोटाले का पर्दाफाश जल्द ही किया जाएगा जिससे फिर ऐसा महा घोटाला उल्हासनगर मनपा में  ना होने पाए और कोरोना बीमारी के इंतजाम के नाम पर चल रहे घोटाले को बंद किया जाए महेश सुखरामानी ने कहा है कि उल्हासनगर मनपा आयुक्त को पहले इन टेंडरों की जांच करनी चाहिए जिसमें करोड़ो रूपये के भ्रष्टाचार की बू आ रही है और उसे जल्द ही रोकना चाहिए क्योंकि उल्हासनगर मनपा आयुक्त उल्हासनगर शहर में नए हैं और यहां के बारे में उनको अधिक जानकारी नहीं है इसलिए इन टेंडरों को तत्काल रद्द किया जाए जिससे उल्हासनगर मनपा का नुकसान नहीं होने पाए और भ्रष्टाचार को रोका जाए।
उल्हासनगर में आज 94 हुए डिस्चार्ज
उल्हासनगर। उल्हासनगर महानगरपालिका क्षेत्र में 92.42 प्रतिशत रिकवरी रेट के साथ अब कोरोना के केवल 383 एक्टिव मरीज ही रह गए हैं। जिसमें से 154 मरीजों का ईलाज शहर के बाहर के अस्पतालों में चल रहा है वहीं 40 होम आयसोलेशन में तो निजी व सरकारी अस्पताल तथा कोविड सेंटर में 189 मरीजों का ईलाज चल रहा है। आज मंगलवार को कोरोना से दो कोरोना के मरीजों की मौत के बाद मरने वालों की कुल संख्या अब 161 हो गई है। आज 94 मरीजों के डिस्चार्ज होते ही कोरोना मुक्त मरीजों की संख्या अब 6641 हो गई है। मंगलवार को 29 नए पाॅजिटीव मरीजों के मिलते ही कोरोना ग्रस्त मरीजों की कुल संख्या अब 7185 हो गई है। कोरोना का प्रकोप तो काफी कम हो गया है लेकिन मरने वालों की संख्या अभी भी चिंता का विषय बना हुआ है। शहर के जल्द ही कोरोना मुक्त के संकेत मिल रहे हैं।
अंबरनाथ में अब तक 3828 कोरोना मुक्त
अंबरनाथ। अंबरनाथ नगरपालिका क्षेत्र में मंगलवार को 29 नए पाॅजिटीव पाए गए हैं। अब तक की कोरोना ग्रस्त मरीजों की कुल संख्या 4314 हो गई है। दो मरीजों की आज मौत के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 168 ही है। मृतकों का प्रतिशत 3.89 हो गया है। अंबरनाथ में एक्टिव मरीज अब 318 ही रह गए हैं जिसका 7.37 प्रतिशत है। ठीक होकर घर जाने वाले अब तक 3828 है जिसका प्रतिशत 88.73 है। आज फिर से पूर्व में पाॅजिटीव ज्यादा मिले हैं। पूर्व में 18 और पश्चिम में 11 पाॅजिटीव मिले हैं। अब तक 10565 लोगों ने टेस्ट कराया है। 145 की रिपोर्ट प्रलंबित है।
बदलापुर में आज 30 नए पाॅजिटीव
बदलापुर। कुलगांव-बदलापुर नगरपारिषद क्षेत्र में मंगलवार को 30 नए पाॅजिटीव मरीज मिले हैं जिससे कोरोना ग्रस्त मरीजों की कुल संख्या अब 3158 हो गई है। यहां पर आज दो मरीजों की मौत के बाद मृतकों का 1.70 प्रतिशत के साथ कुल मरने वालों की संख्या 54 हो गई है। यहां पर 87.93 प्रतिशत मरीज ठीक हुए हैं 2777 मरीज कोरोना मुक्त अब तक हो चुके हैं। 10.35 प्रतिशत के साथ एक्टिव मरीजों की कुल संख्या अब केवल 327 रह गई है। जिनका ईलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है। अब तक 4907 लोगों का स्वेब टेस्ट हुआ है। आज 67 स्वेब की रिपोर्ट में 37 नेगेटिव और 30 पाॅजिटीव पाए गए हैं।
कल्याण-डोंबिवली क्षेत्र में आज 196 पाॅजिटीव
कल्याण। कल्याण डोम्बिवली महानगरपालिका में मंगलवार को कुल 196 कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि की गई जिसके साथ ही कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 22,849 तक जा पहुची है इनमें 4062 मरीजों का उपचार चल रहा है तो वही 18,329 मरीज डिस्चार्ज हो चुके है वही आज 10 लोगों की मौत हो गयी इस आंकड़े के बाद मरनेवालों की संख्या बढ़कर 458हो गयी है 453 मरीज पिछले 24 घंटे के भीतर विभिन्न अस्पतालों व कोरंटाइन सेंटर से डिसचार्ज भी हुए है। मनपा क्षेत्र के कल्याण पूर्व में 48, कल्याण पश्चिम में 37, डोंबिवली पूर्व में 55, डोंबिवली पश्चिम में 27, मांडा टिटवाला में 13, पिसवली में 1 तथा मोहना में 15 नया मरीज कोरोना संक्रमित पाया गया है।
लाॅकडाऊन में काम करने वाले 100 मजदूरों को इनाम
अंबरनाथ। कोरोना महामारी संकट के समय में सचिन एंटरप्राईसेस के मजदूरों ने एमआयडीसी में डीजीकॅम इंडस्ट्रीज कंपनी में किसी भी प्रकार की बाधा ना लाते हुए लाॅकडाऊन कोरोना काल में अपनी जान की परवाह ना करते हुए कंपनी में काम में सहकार्य किया. इन 100 मजदूरों को सोमवार को नकद रकम देकर उनका सन्मान किया गया। मे. सचिन एंटरप्राईसेस के मालक सदा पाटीव व सचिन पाटील ने डीजीकेम कंपनी व्यवस्थापन को विनंती की उनकी और उन्हें मान्यता देते हुए 6 से 7 हजार मजदूरों को इनाम के रूप में दिए। मजदूरों को जब उनका ईनाम मिला तो उनके चेहरे पर मुस्कुराहट देखने लायक थी। उल्हासनगर राकांपा गट नेता भारत राजवानी(गंगोत्री), डीजीकैम इंडस्ट्री के मैनेजर संजय झेमसे, संतोष भोईर के हाथों ये इनामत मजदूरों को दिए गए। संकट के समय भी मजदूरों ने अपने मालिक का साथ नहीं छाड़ा इसके लिए उन्हें सन्मानित किया गया।
Download Ulhasnagar Municipal Corporation CORONA Press Note 

[blogger]

Author Name

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.